नस्ली टिप्पणी पर दुनिया भर के सिख नाराज़

इमेज कॉपीरइट

अमरीका में एक सिख लड़के के साथ होने वाले नस्ली बर्ताव से दुनिया भर में सिख समुदाय काफी गुस्से में है. प्रवासी सिख समुदाय ने इस घटना की कड़ी निंदा की है.

दक्षिण अमरीका के जॉर्जिया में रहने वाले एक सिख लड़के को स्कूल बस में उसके सहपाठी रोज़ उसे 'टेररिस्ट' (आतंकवादी) कहकर चिढ़ाते थे जिस पर लड़के ने घटना का वीडियो बनाकर उसे यू ट्यूब पर डाल दिया था.

सिखों की सबसे बड़ी पीठ 'अकाल तख्त' ने घटना की निंदा की और 'सिख पहचान' को लेकर जागरूकता बढ़ाने की कोशिशों को मज़बूत बनाने की मांग की.

इमेज कॉपीरइट Ravinder Singh Robin
Image caption अकाल तख्त जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह ने कहा कि यह घटना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है.

अकाल तख्त जत्थेदार ज्ञानी गुरबचन सिंह ने कहा कि यह घटना बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है.

गुरुद्वारा प्रबंधक समिति ने भी सिखों की पहचान को लेकर अमरीका में जागरूकता फैलाने की बात की है.

गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के समन्वयक डॉक्टर प्रीतपाल सिंह ने कहा, "कभी-कभी इस तरह की घटनाएं हो जाती हैं जो परेशान करने वाली होती हैं."

उन्होंने कहा कि अमरीकी प्रशासन और एजेंसियों ने आम लोगों के बीच सिखों के बारे में बताने के लिए कई कार्यक्रम शुरू किए हैं और अमरीकी सरकार ने भी इस मामले को गंभीरता से लिया है.

इमेज कॉपीरइट Ravinder Singh Robin
Image caption दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के अध्यक्ष मंजीत सिंह ने घटना पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है.

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक समिति अध्यक्ष मंजीत सिंह ने भी घटना पर कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है और कहा है कि वे भारत सरकार से भी इस संबंध में बात करेंगे कि वो अमरीका में अधिकारियों से इस संबंध में बात करे.

दिल्ली में शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष परमजीत सिंह सरना ने अमरीकी राष्ट्रपति बराक ओबामा से अपील की है कि अमरीका में सिखों पर होने वाले नस्ली हमलों का जल्द से जल्द कोई समाधान निकाले.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार