भाजपा ने कांग्रेसियों को कैसे बनाया 'मेंबर'

  • 10 मार्च 2015
बीजेपी का झंडा इमेज कॉपीरइट AFP

छत्तीसगढ़ में उस वक़्त हंगामा शुरू हो गया जब कुछ वरिष्ठ कांग्रेसी नेताओं के मोबाइल पर संदेश आया कि "आप भाजपा सदस्य बन गए हैं."

ऐसे नेताओं में राज्य विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव और प्रदेश कांग्रेस के मीडिया प्रभारी शैलेश नितिन त्रिवेदी भी शामिल हैं.

असल में छत्तीसगढ़ में भाजपा ने 50 लाख लोगों को अपना सदस्य बनाने का लक्ष्य रखा है.लेकिन ढाई करोड़ की आबादी वाले छत्तीसगढ़ में इतनी बड़ी संख्या में सदस्य बनाना आसान नहीं है.

सदस्यता अभियान

इमेज कॉपीरइट Other

विपक्षी दलों का आरोप है कि भाजपा अपनी मर्ज़ी से किसी भी सेलफोन का नंबर फीड करके उसके धारक को एक संदेश भेज कर भाजपा सदस्य घोषित कर दे रही है.

भाजपा के इस सदस्यता अभियान की हालत ये है कि कई कांग्रेसी नेता भी अब भाजपा के सदस्य बन गए हैं.

शैलेश नितिन त्रिवेदी अपना सेलफोन दिखाते हुए कहते हैं, "दो दिन पहले मेरे सेलफोन पर अंग्रेज़ी में संदेश आया तो मैं चौंक गया. संदेश के अनुसार मैं भारतीय जनता पार्टी का प्राथमिक सदस्य बन चुका था."

लोकतंत्र और राजनीति

Image caption छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजित जोगी.

राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी इसे हास्यास्पद बताते हैं.

जोगी कहते हैं, "भाजपा किसी भी हद तक जा सकती है और किसी को भी सदस्य घोषित कर सकती है. लोकतंत्र और राजनीति ऐसे नहीं चलती."

प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष और विधायक भूपेश बघेल का कहना है कि भाजपा जिस तरीके से सदस्यता अभियान चला रही है, उससे तो कोई चरमपंथी और माओवादी भी इनका सदस्य बन सकता है.

भूपेश कहते हैं, "जम्मू-कश्मीर के मसर्रत आलम अगर मिस्ड कॉल कर दें तो क्या भाजपा उसे भी अपना प्राथमिक सदस्य मान लेगी?"

कांग्रेस फिलहाल पूरे मुद्दे को अदालत में ले जाने की तैयारी कर रही है लेकिन भाजपा के नेता इस पर कुछ भी कहने से बच रहे हैं.

भाजपा का पक्ष जानने के लिए हमने प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक और प्रदेश प्रवक्ता शिवरतन शर्मा से कई बार संपर्क करने की कोशिश की लेकिन उनकी ओर से कोई जवाब नहीं मिला.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार