बेटी पढ़ाओ मगर ऐसे भी नहीं

  • 18 मार्च 2015
इमेज कॉपीरइट BBC World Service

उत्तर प्रदेश के मथुरा ज़िले में अपनी बेटी के स्कूल न जाने से परेशान एक पिता ने उसे मोटर साइकल पर कस कर बाँध दिया और उसे बोरे की तरह लाद कर ले गया.

मथुरा के सौंख रोड स्थित नगला माना गाँव में रहने वाला भगत सिंह गाँव के ही पास बने इस पब्लिक स्कूल में चौकीदार हैं. भगत सिंह की तीन बेटी और दो बेटे हैं.

भगत सिंह की आठ साल की बेटी स्कूल जाने में आना कानी करती थी.

जानवरों जैैसा किया व्यवहार

शुक्रवार 13 मार्च को बेटी का पेपर था लेकिन वो स्कूल नहीं जाना चाहती थी. इसी बात से ग़ुस्साए पिता भगत सिंह ने पहले तो उसकी उसे मिठाई और दूसरी चीज़ों का लालच दिया लेकिन तब भी बेटी नहीं मानी तो भगत सिंह, उसे अपनी बाइक पर बोरे की तरह बाँध कर स्कूल ले गए.

उसकी इस तरह से बच्ची को स्कूल ले जाने की किसी ने फ़ोटो खीच ली और तस्वीरें मीडिया में सामने आ गई.

पुलिस भी सक्रिय हो गयी और शांति भंग की धारा 151 में पिता का चालान कर मामला ख़त्म कर दिया.

मथुरा के एस पी सिटी, शैलेश पांडे ने माना की उनकी जानकारी में मामला है और पिता के विरुद्ध मुक़दमा दर्ज किया गया है लेकिन अब उस बच्ची के साथ उसके पिता का क्या व्यव्हार है इसकी उन्हें कोई जानकारी नहीं है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार