अपने 'बलात्कारी' से शादी करने से इंकार

  • 26 मार्च 2015
रेप की शिकार

वाराणसी के पास सजोई गांव की एक लड़की ने परिवार और गांववालों के दबाव को अनदेखा करते हुए अपने कथित बलात्कारी से शादी करने से मना कर दिया.

आरोपी से पीड़िता की शादी 24 मार्च को होनी थी. लड़की के प्रतिरोध के बाद बलात्कारी को गिरफ़्तार कर लिया गया है.

मामले की जांच कर रहे जंसा पुलिस थाने के प्रभारी बसंत राम के मुताबिक़, "अभियुक्त सजोई गांव का ही रहने वाला है."

बसंत राम ने बताया, "शिकायत के मुताबिक़, अभियुक्त ने पीड़िता के साथ 21 फ़रवरी को बलात्कार किया था."

एफ़आईआर दर्ज थी

इमेज कॉपीरइट Dibyangshu Sarkaria AFP

बिना पीड़िता की सहमति के दोनों पक्षों ने मिलकर तय किया कि दोनों की शादी करा दी जाए.

गांव में रहने वाले ख़ालिद ने बताया, "लड़की का परिवार ग़रीब है. उसके भविष्य को ध्यान में रखते हुए गांववाले दोनों की शादी कराना चाहते थे."

लेकिन लड़के ने भी शादी करने से इंकार कर दिया था. पीड़िता ने 25 फ़रवरी को ही एफ़आईआर दर्ज कराई थी.

पीड़िता ने किया मना

इमेज कॉपीरइट AFP

पुलिस ने कार्रवाई तो की नहीं, पर दोनों पक्षों पर मामले को आपस में सुलझा लेने का दबाव डाला.

थाना प्रभारी बसंत राम कहते हैं कि मुक़दमा दर्ज़ है और लड़के को ज़ेल भेज दिया गया है.

हालांकि, गाँव के बड़ों और परिवार वालों के दबाव में आकर लड़के ने शादी के लिए रज़ामंदी दे दी और दोनों पक्षों ने एक बार फिर बिना लड़की को बताए 24 मार्च को शादी करने का फैसला कर लिया था.

लेकिन, लड़की ने शादी से इंकार कर दिया. ख़ालिद के मुताबिक़, "गाँव के अधिकांश लोग लड़की के इस फैसले से खुश हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐपके लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार