ताज होटल पर 2 करोड़ रुपए का जुर्माना

मुंबई ताज होटल

मुंबई के कोलाबा इलाक़े में सार्वजनिक रास्ते पर अवैध कब्ज़ा करने के लिए बृहन्मुंबई नगर निगम (बीएमसी) ने ताज होटल पर दो करोड़ रुपए का जुर्माना किया है.

साल 2009 में मुंबई पर हुए आतंकी हमले के बाद कोलाबा स्थित ताज होटल ने सुरक्षा की दृष्टि से होटल के बाहर के रास्ते पर बैरिकेड लगाकर गाड़ियाँ खड़ी कराना शुरू कर दिया था.

बीएमसी की स्थायी समिति के अध्यक्ष यशोधर फणसे ने प्रशासन को आदेश देकर अवैध कब्ज़े के लिए होटल के ख़िलाफ़ जाँच शुरू करने को कहा था.

जिसके बाद प्रशासन ने होटल पर 2 करोड़ रुपए का जुर्माना किया है. बैरिकेड हटाकर यह रास्ता आम जनता के लिए खोलने के आदेश भी दिए गए हैं.

आम रास्ते पर बैरिकेड

इमेज कॉपीरइट AFP

इस क्षेत्र में होटल के अतिथियों के अलावा किसी और को जाने की अनुमति नहीं थी. इस जगह का इस्तेमाल पार्किंग के लिए भी किया जाने लगा था.

कांग्रेस पार्षद प्रवीण छेड़ा ने हाल में यह मामला बीएमसी में उठाया था और इस पर कार्रवाई की माँग की थी.

इसके बाद स्थायी समिति के अध्यक्ष यशोधर फणसे ने जाँच के आदेश दिए थे.

बीबीसी से बातचीत में यशोधर फणसे ने बताया, “मैंने इस मामले में जांच कर उचित ज़ुर्माना करने के आदेश दिए थे जिस पर प्रशासन ने कार्रवाई की है. बीएमसी के पार्षदों की एक टीम 16 अप्रैल को उस जगह का मुआयना करेगी.”

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार