बादल की बस में 'छेड़छाड़': दो गिरफ्तार

पंजाब के मोगा में कथित छेड़छाड़ की घटना के बाद नाबालिग लड़की की मौत मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है.

मोगा पुलिस प्रमुख जतिंदर सिंह खेरहा ने बीबीसी को बताया है कि बस कंडक्टर सुखविंदर सिंह और उसके सहयोगी गुरदीप सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है.

पुलिस ने हत्या और छेड़छाड़ का मामला दर्ज किया है. सिंह ने ये भी बताया कि वो तीसरे अभियुक्त की भी तलाश कर रही है.

एसएसपी के अनुसार जिस बस में छेड़छाड़ की घटना हुई उसे बरामद कर लिया गया है.

जिस बस में ये कथित छेड़छाड़ की घटना हुई है, वो पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के कंपनी की है.

ख़ुद मुख्यमंत्री बादल ने इसकी पुष्टि की है. उन्होंने कहा- दुर्भाग्य से ये बस हमारी कंपनी की है.

इस घटना के बाद पंजाब सरकार की कड़ी आलोचना हो रही है.

इस्तीफे की मांग

कांग्रेस नेता राज बब्बर ने प्रकाश सिंह बादल की सरकार को निशाना साधा.

राज बब्बर ने कहा, "ये तथ्य सामने आने के बाद कि बस प्रकाश सिंह बादल की कंपनी की है, मुख्यमंत्री को तुरंत इस्तीफा दे देना चाहिए. यही नहीं इस मामले में केंद्र को दखल देने की भी जरूरत है ताकि पुलिस बस वालों पर मुकदमा कर सके."

तो दूसरी तरफ सीपीएम नेता वृंदा करात ने कहा, "बस में छेड़छाड़ की घटना दिखाती है कि सरकार ने कोई सबक नहीं लिया और ये भी कि यहां महिलाएं सुरक्षित नहीं है."

इमेज कॉपीरइट AP

भाजपा नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने ये कहते हुए किनारा किया है कि ये मामला राज्य का है और ऐसे मामलों पर आमतौर पर केंद्र सरकार या संसद में चर्चा नहीं होती.

उन्होंने ये भी कहा कि यदि विपक्ष मुद्दा उठाता है तो हम देखेंगे.

मामला बुधवार शाम का है. दोनों पीड़ित ऑर्बिट कंपनी की बस में सवार थीं, जो मोगा से बठिंडा जा रही थी.

महिला और उसकी बेटी से छेड़छाड़ का आरोप बस के कर्मचारियों पर ही लग रहा है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार