60 केले खाकर चोर ने 'निकाल दिया' नेकलेस

अनिल यादव

सोमवार को मुंबई में पकड़े गए नेकलेस निगलने वाले 'चोर', अनिल यादव के पेट से आख़िर क़ीमती नेकलेस निकाल लिया गया. 60 से अधिक केले और ख़ास खाना खिलाने का बाद गुरूवार को अनिल के पेट से मल के रास्ते नेकलेस निकल गया.

अनिल यादव पर सोमवार को एक महिला का नेकलेस छीन कर भागने की कोशिश करने का आरोप है. नेकलेस की कीमत क़रीब 63,000 रुपए बताई गई थी.

मुंबई में सायन अस्पताल ने अनिल के पेट के एक्स-रे में नेकलेस देखने का बाद उसे चार बार एनीमा भी दिया था.

इस बीच नेकलेस की मालिक ने कहा है कि वे अब यह नेकलेस दोबारा कभी नहीं पहनेंगी.

बड़े पेन्डेन्ट के कारण हुई मुश्किल

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

मिडडे अख़बार के संवाददाता सौरभ वक्तानिया से बातचीत में राजश्री मयकर ने बताया कि वे इस नेकलेस को अब अपने सुनार के पास ले जाएंगी और इसे गला कर नया हार बनवाएंगी.

अस्पताल के अधिकारियों ने बताया कि केले, एंटासिड और ख़ास खाना खाने के बाद गुरुवार सुबह अनिल के मल में नेकलेस निकल गया.

अधिकारियों के अनुसार नेकलेस निकलने मे अधिक वक्त लगा क्योंकि इसका बड़ा पेन्डेन्ट इसके निकलने में बाधक बन रहा था.

बुधवार को बीबीसी से बात करते हुए पुलिस अधिकारी राहुल पवार बताया था कि अनिल ने 52 वर्षीय मयकर के गले से नेकलेस उस वक्त छीन लिया था जब वह सायन इलाके में अपने घर लौट रही थी.

पुलिस और वहां मौजूद लोगों ने अनिल को दौड़ा कर उसे पकड़ लिया था जिसके बाद अनिल ने नेकलेस निगल लिया था.

इसके बाद उसे पुलिस ने अस्पताल में भर्ती करवाया और उसे केले के ख़ास भोजन पर रखा गया.

डॉक्टर केलों का घुट्टी के रूप में इस्तेमाल पर प्रश्न करते हैं औऱ बताते हैं कि दवाईयों के इस्तेमाल से इस काम को आसानी से अंजाम दिया जा सकता था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार