पुलिस अधिकारी पर दागी गोली, फिर की ख़ुदकुशी

इमेज कॉपीरइट THINKSTOCK

मुंबई में एक सहायक पुलिस उपनिरीक्षक (एएसआई) ने शनिवार रात अपने वरिष्ठ अधिकारी पर गोली चलाने के बाद ख़ुदकुशी कर ली.

एएसआई की गोली से घायल वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक विलास जोशी की मौत हो गई जबकि उन्हें बचाने की कोशिश में घायल हुए एक अन्य पुलिसकर्मी का इलाज हो रहा है.

ख़ुदकुशी करने वाले एएसआई का नाम दीपक शिर्के है. वह वाकोला पुलिस थाने में तैनात था.

बिना इजाज़त छुट्टी

इमेज कॉपीरइट Mumbai police

मुंबई के पुलिस कमिश्नर राकेश मारिया ने बताया, "दीपक शिर्के ने शुक्रवार रात बिना किसी को जानकारी दिए छुट्टी ले ली थी, जबकि उनकी रात के बंदोबस्त के लिए ड्यूटी लगी थी. रात को उपस्थिति दर्ज करने की प्रक्रिया के दौरान दीपक शिर्के को ड्यूटी से अनुपस्थित पाया गया."

मरिया के अनुसार नाइट पेट्रोलिंग के अधिकारीयों ने स्टेशन डायरी में शिर्के की अनुपस्थिती दर्ज की.

नाराज़गी में चलाई गोली

जब शनिवार शाम को शिर्के पुलिस थाने पहुंचे और उन्हें अनुपस्थिति दर्ज किये जाने का पता चला, तो गुस्से में वह वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक विलास जोशी के केबिन में जाकर उनसे बहस करने लगे.

काफी बहस के बाद जब जोशी ने देखा कि शिर्के कोई भी बात मानने को तैयार नहीं है, तब वह घर जाने के लिए केबिन से बहार निकालने लगे.

उस वक्त शिर्के ने अपने सर्विस रिवोल्वर से जोशी पर गोली चलायी. जोशी के वायरलेस ऑपरेटर बाबासाहेब आहेर उन्हें बचने के लिए आए तो शिर्के ने उन पर भी गोली चला दी, जिससे वह ज़ख्मी हो गए.

मरिया ने बताया, "जोशी और आहेर पर गोली चलने के बाद शिर्के ने अपने सर पर गोली मारकर आत्महत्या कर ली."

उन्होंने बताया कि क्राइम ब्रांच को इस मामले में जाँच करने के आदेश दे दिए गए है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार