न्यूज़ अलर्ट: नेपाल से विदेशी राहत टीमों की वापसी

  • 5 मई 2015
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री डेविड कैमरन अपनी पत्नी समांथा के साथ इमेज कॉपीरइट Reuters

आज जिन ख़बरों पर नज़र है उनमें नेपाल से विदेशी राहत टीमों की वापसी, यमन में चल रहा संघर्ष और ब्रिटेन में 7 मई को होने वाले आम चुनाव से जुड़ी गतिविधियां प्रमुख हैं.

ब्रिटेन चुनाव: अंतिम चरण

ब्रिटेन में सात मई को होने वाले आम चुनाव के लिए प्रचार अंतिम चरण में है.

चुनाव से पहले सन अख़बार के एक चुनावी सर्वे के मुताबिक़ प्रधानमंत्री डेविड कैमरन की कंज़रवेटिव पार्टी और मुख्य विपक्षी दल लेबर पार्टी के बीच कांटे की टक्कर है. इस सर्वे में दोनों ही पार्टियों को 33 फ़ीसदी वोट मिलने की संभावना जताई गई है.

इमेज कॉपीरइट AFP

इस चुनाव को हाल के सालों में सबसे कड़ी टक्कर वाला चुनाव माना जा रहा है.

तमाम चुनावी सर्वे बता रहे हैं कि 650 सीटों वाली ब्रितानी संसद में किसी भी पार्टी को बहुमत मिलना मुश्किल है.

इस बीच सत्ताधारी कंज़रवेटिव पार्टी ने इन दावों को ख़ारिज कर दिया है कि प्रधानमंत्री डेविड कैमरन अपनी जीत को लेकर आश्वस्त नहीं है और मान चुके हैं कि उनकी पार्टी ये चुनाव नहीं जीतेगी. ये दावा कंज़रवेटिव पार्टी की मौजूदा सहयोगी पार्टी लिबरल डेमोक्रेट ने किया.

डालास गोलीबारी

अमरीका के डालास शहर में पैगंबर मोहम्मद पर कार्टून कॉन्टेस्ट की जगह के पास हुई गोलीबारी की जांच में नई बातें सामने आ सकती हैं.

अमरीकी मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक़ सोमवार को हुई इस घटना में शामिल हमलावरों की पहचान कर ली गई है.

ख़बरों के मुताबिक़ इन हमलावरों के नाम हैं एल्टन सिम्पसन और नादिर सोफ़ी.

यमन में रुकेंगे हवाई हमले?

इमेज कॉपीरइट AFP

सऊदी अरब के नेतृत्व वाली अरब गठबंधन सेना यमन में हूती विद्रोहियों के ख़िलाफ़ हवाई हमले रोकने पर विचार कर रही है.

ऐसा करने का फ़ैसला इसलिए हो सकता है ताकि इस युद्ध से प्रभावित लोगों तक राहत सामग्री पहुंचाई जा सके.

सऊदी अरब ने साथ ही विद्रोहियों को आगाह किया है कि वो इस फ़ैसले का फ़ायदा उठाने की कोशिश ना करे.

नेपाल से राहत टीमों की वापसी

इमेज कॉपीरइट AFP

नेपाल से विदेशी राहत टीमों की वापसी शुरू हो सकती है.

सोमवार को नेपाल ने सभी विदेशी राहत दलों से कहा था कि वो अपने-अपने देश लौट जाएं.

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)