प्रेमी, पति और पंचायत के बीच उलझी एक औरत

  • 9 मई 2015
महिला, जेनेरिक फ़ोटो इमेज कॉपीरइट Reuters

पश्चिमी उत्तर प्रदेश के खुर्जा की रहने वाली 25 वर्षीय बबीता (बदला हुआ नाम) की ज़िंदगी दोराहे पर आकर खड़ी हो गई है.

उनके प्रेमी और उनके एकमात्र बच्चे के पिता शिव कुमार दो हफ़्ते से फरार हैं.

गांव की पंचायत ने शिव कुमार से कहा है कि वो बबीता को अपनी दूसरी पत्नी के रूप में रखें.

छह साल तक पति बिल्केश के साथ रहने के बाद बबीता ने तलाक़ का मुक़दमा दायर रखा है.

जबसे पंचायत में बबीता ने स्वीकार किया है कि शिव कुमार के साथ उनके संबंध थे और वो उनके बच्चे के पिता हैं, तब से उनके पिता और भाइयों ने भी उनसे नाता तोड़ लिया है.

पंचायत का फ़रमान

इमेज कॉपीरइट NARENDRA KAUSHIK
Image caption बबीता अब क़ानूनी विकल्पों का सहारा लेने की सोच रही हैं.

बबीता कहती हैं, “मैं कहां जाउं? शिव कुमार का परिवार मुझे राज़ी से नहीं रखेगा. बिल्केश को मैंने तलाक़ दे दिया है... और मेरा बाप मुझे कैसे रख सकता है, उनकी तो पंचायत में नाक नीची हुई है.”

बबीता चाहती हैं कि पुलिस उन्हें स्वीकार करने के लिए शिव कुमार पर दवाब डाले. हालांकि वो नहीं जानती हैं कि तलाक हो जाने तक दूसरा विवाह करना अवैध है.

शिव कुमार को अपनी पत्नी से तीन बच्चे हैं.

पिछले महीने गंगथला गांव की पंचायत ने अपने फैसले में बबीता को शिव कुमार को सौंप दिया था और आदेश दिया था कि वो बबीता के चार महीने के बच्चे दिवाकर के नाम तीन बीघा ज़मीन लिख दे और 10 मई से पहले बिल्केश को जुर्माने के रूप में एक लाख रुपए दे दे.

प्रेमी फरार

इमेज कॉपीरइट NARENDRA KAUSHIK

एक रेलवे कॉन्ट्रैक्टर के साथ सुपरवाइज़र शिव कुमार पहले तो पंचायत के फ़ैसले को मानने के लिए लिखित रूप से तैयार हो गए, लेकिन जब उनकी पत्नी, अभिभावक और बच्चों ने बबीता को स्वीकार करने से इनकार कर दिया तो वो फ़रार हो गए.

शिव कुमार की माँ द्रोपा कहती हैं, “पंचायत ने मेरे बेटे पर दबाव डालकर हां करा दी. जांच करा लो, यदि वो बच्चा शिव कुमार का निकला तो उसे मैं पालूंगी.”

शिव कुमार के परिवार ने पंचायत के सदस्यों से साफ़ कह दिया है, “कुछ हो जाए, हम बबीता को नहीं स्वीकार करेंगे.”

शिव कुमार ने बिल्केश को अपने रेलवे ठेकेदार के यहां नौकरी पर लगवाया और तीन साल पहले बिल्केश और बबीता गांव से खुर्जा जंक्शन के पास आ गए.

पंचायत में 'हां'

इमेज कॉपीरइट Getty

बीती सात अप्रैल तक तीनों एक किराए के मकान में साथ साथ रह रहे थे. लेकिन बिल्केश ने अपनी पत्नी और शिव कुमार के बीच अवैध संबंध की बात उठाई.

बिल्केश कहते हैं, “बबीता और शिव कुमार ने पुलिस में मेरे ख़िलाफ़ मारपीट की शिकायत की और शिव कुमार ने मुझे मारने की धमकी दी. मैं अपनी जान छुड़ाना चाहता हूँ.”

गांव की पंचायत में शिव कुमार ने अवैध संबंध और बच्चे के पिता होने की बात स्वीकारी.

पंचायत के फैसले पर, वहां मौजूद सभी लोगों ने हस्ताक्षर किए और खुर्जा जंक्शन पुलिस थाने की मुहर भी लगी.

इमेज कॉपीरइट NARENDRA KAUSHIK
Image caption बबीता के पति बिल्किश. बबीता ने तलाक की अर्जी दे रखी है.

खुर्जा जंक्शन पुलिस थाने के इंचार्ज राकेश कुमार के अनुसार, बबीता और शिव कुमार की शिकायत का संज्ञान लेते हुए बिल्किश पर धारा 498 ए के तहत केस दर्ज कर लिया गया है.

पंचायत के सदस्य सुधीर चौधरी को डर है कि फैसले पर हस्ताक्षर करने वालों के ख़िलाफ़ भी पुलिस मामला दर्ज कर सकती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार