मोदी को राहत, चुनाव संबंधी याचिका ख़ारिज

मोदी सेल्फ़ी इमेज कॉपीरइट Reuters

अहमदाबाद की एक अदालत ने आम आदमी पार्टी कार्यकर्ता निशांत वर्मा की उस याचिका को खारिज कर दिया जिसमें लोकसभा चुनाव के समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के चुनाव आचार संहिता के कथित उल्लंघन पर कार्रवाई की मांग की गई थी.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार अहमदाबाद (ग्रामीण) ज़िला अदालत के मुख्य न्यायिक मैजिस्ट्रेट एसआर सिंह ने याचिका को ख़ारिज करते हुए कहा कि 'अदालत के समक्ष प्रस्तुत रिकॉर्ड्स से ऐसा प्रतीत नहीं होता कि इस मामले का संज्ञान लेना ज़रूरी है.'

'जांच सही, कोई मामला नहीं बनता'

नौ अगस्त को क्राइम ब्रांच ने इस मामले में क्लोज़र रिपोर्ट दाखिल कर दी थी.

इमेज कॉपीरइट Reuters

अदालत ने कहा, "जांच न्यायसंगत और सही है. किसी भी अभियुक्त के ख़िलाफ़ प्रथम दृष्टया कोई मामला नहीं पाया गया है."

नरेंद्र मोदी ने पिछले साल 30 अप्रैल को वोट डालने के बाद प्रेस को संबोधित किया था और पार्टी चिन्ह के साथ एक सैल्फ़ी ली थी. उस समय गुजरात की 26 सीटों के लिए मतदान चल रहा था.

चुनाव आयोग ने क्राइम ब्रांच को एफ़आईआर दर्ज करने और जांच करने का आदेश दिया था.

वर्मा के वकील ने दलील दी थी कि पुलिस ने चुनाव आयोग के अधिकारियों या फिर शिकायतकर्ता से कोई पूछताछ नहीं की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर परफ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार