मंगोलिया लोकतंत्र की नई रौशनीः मोदी

मंगोलिया में मोदी इमेज कॉपीरइट PIB

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को मंगोलिया की संसद को संबोधित करते हुए कहा कि बौद्ध धर्म और लोकतंत्र के जरिए एशिया में शांति, सौहार्द और सद्भाव कायम होगा.

मंगोलिया में लोकतंत्र के 25 साल पूरे होने पर बधाई देते हुए मोदी ने कहा कि मंगोलिया दुनिया में लोकतंत्र की नई रौशनी है.

इमेज कॉपीरइट MEAIndia

भारत और मंगोलिया के संबंधों को ऐतिहासिक बताते हुए मोदी ने कहा कि पांच दशक पहले जब मंगोलिया ने संयुक्त राष्ट्र की सदस्यता के लिए आवेदन किया था तो भारत ने उसका पुरजोर समर्थन किया था. मंगोलिया ने भी हमेशा संयुक्त राष्ट्र में भारत का साथ दिया.

मुक्ति का मार्ग

उन्होंने कहा कि बुद्ध की शिक्षाओं ने मंगोलिया पर गहरा असर डाला है और उनका अष्ठांग मार्ग न केवल इंसान की मुक्ति का मार्ग है बल्कि यह समाज और देशों का भी मार्गदर्शन करता है.

इमेज कॉपीरइट PIB

मोदी ने कहा कि भारत दुनिया में सबसे तेज विकास करने वाली अर्थव्यवस्थाओं में शामिल है और मंगोलिया की आर्थिक प्रगति भी काफी प्रभावशाली है. दोनों देश मानवता के लिए मिलकर काम करेंगे.

भारत और मंगोलिया के कूटनीतिक रिश्ते 60 साल पहले शुरू हुए थे और किसी भारतीय प्रधानमंत्री की मंगोलिया की यह पहली यात्रा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)