'ये कार्रवाई...पाकिस्तान के लिए भी संदेश'

भारतीय सेना का जवान इमेज कॉपीरइट EPA
Image caption (फ़ाइल फ़ोटो)

भारत के सूचना एवं प्रसारण केंद्रीय राज्य मंत्री राज्यवर्धन सिंह राठौर ने कहा है कि म्यांमार में की गई भारतीय सेना की कार्रवाई पाकिस्तान समेत उन दूसरे देशों के लिए एक संदेश है जहाँ भारत विरोधी चरमपंथी विचारधारा वाले लोग बसते हैं.

क्या भारत पाकिस्तान में भी ऐसी कार्रवाई कर सकता है? इसपर राठौर ने भारतीय अख़बार इंडियन एक्सप्रेस से कहा, "ये पाकिस्तान समेत सभी देशों और संगठनों के लिए एक संदेश है जो भारत के ख़िलाफ़ आतंक को बढ़ावा देते हैं. एक आतंकवादी केवल आतंकवादी होता है उसकी कोई दूसरी पहचान नहीं होती. हम जब चाहेंगे तब कार्रवाई करेंगे."

भारतीय सेना ने मंगलवार को म्यांमार के भीतर घुसकर चरमपंथियों के दो कैंप नष्ट किए थे.

म्यांमार के अंदर हुई चरमपंथियों के ख़िलाफ़ कार्रवाई

अपनी जगह और समय

इमेज कॉपीरइट ABHA SHARMA
Image caption राज्यवर्धन सिंह राठौर सेना में कर्नल रह चुके हैं.

राठौर ने बताया कि इस कार्रवाई का फ़ैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लिया था.

राठौर ने अख़बार से कहा, "हम भारत या भारतीयों पर हमला बर्दाश्त नहीं करेंगे. हम हमेशा पहल करेंगे, चाहे दोस्ती के लिए या आक्रामक कार्रवाई के लिए. हम अपनी चुनी हुई जगह और समय पर कार्रवाई करेंगे."

सेना की कार्रवाई के बाद राठौर ने ट्वीट किया, "भारतीय सेना ने चरमपंथियों के दिल में हमला किया है. देश के दुश्मनों को करारा जवाब. कुशल नेतृत्व, मज़बूत सरकार."

राठौर ने अपने ट्वीट के साथ #56inchRocks हैशटैग का भी प्रयोग किया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार