किसी के साथ अन्याय नहीं होने देंगे: अखिलेश

journo jagendra singh इमेज कॉपीरइट shahjahanpur samachar

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने पत्रकार की कथित हत्या के मामले में कहा है कि उनकी सरकार राज्य में किसी के साथ अन्याय नहीं होने देगी.

अखिलेश यादव शहाजहांपुर में पत्रकार जगेंद्र सिंह की कथित हत्या के मामले में बोल रहे थे.

इस मामले में छह लोगों पर एफ़आईआर हुई जिनमें यूपी सरकार के एक मंत्री भी शामिल हैं. जिसके बाद मंत्री को पद से हटाए जाने की माँग की जा रही है.

जगेंद्र का परिवार मंत्री पर कार्रवाई करने की मांग को लेकर धरने पर बैठा है.

अखिलेश यादव ने कहा, "समाजवादियों ने हमेशा अन्याय के ख़िलाफ़ लड़ाई लड़ी है. मेरी सरकार यह सुनिश्चित करेगी कि किसी के भी साथ अन्याय न हो."

इससे पहले उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री शिवपाल यादव ने सोमवार को कहा था कि कोई मंत्री जांच से पहले नहीं हटाया जाएगा.

पुलिसवालों पर एफआईआर

इमेज कॉपीरइट shahjahapur post

एक जून को जगेंद्र सिंह के घर पर पुलिस का छापा पड़ा था. इसके बाद आग से बुरी तरह से झुलसे हुए जगेंद्र सिंह को अस्पताल में भर्ती कराया गया जहाँ उन्होंने दम तोड़ दिया.

8 जून को जगेंद्र सिंह की अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई थी.

जगेंद्र सिंह के पुत्र राघवेन्द्र ने राज्य मंत्री राम मूर्ति वर्मा और अन्य पांच लोगों पर एफआईआर दर्ज कराई है.

बताया जा रहा है कि जगेंद्र सिंह ने ग़ैर-क़ानूनी खनन और ज़मीन हड़पने के बारे में रिपोर्ट 'फेसबुक' पर पोस्ट की थी.

जगेंद्र की मौत के बाद एक वीडियो भी वायरल हुआ जिसमें बुरी तरह झुलसे हुए जगेंद ने पुलिस वालों पर आरोप लगाए और कहा कि उन्हें जलाने की क्या ज़रूरत थी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार