मुंबईकर आज नहीं मानेंगे कि जल ही जीवन है...

  • 19 जून 2015
मुंबई बारिश

गुरुवार शाम से हो रही भारी बारिश ने मुंबई के जनजीवन को पूरी तरह से अस्त-व्यस्त कर दिया है.

पानी जमा होने की वजह से मुंबई की लाइफ़-लाइन कही जानेवाली लोकल रेल सेवा पूरी तरह से ठप हो गई है.

मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी नरेन्द्र पाटिल के अनुसार भारी बारिश की वजह से मध्य रेल की सारे सेवाएँ निलंबित कर दी गई हैं.

पाटिल ने बताया, “रेलवे पटरियों पर पानी भरने से लोकल और लंबी दूरी की रेल सेवाएँ रोक दी गई हैं. यात्री सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह फ़ैसला लिया गया है.”

बीबीसी संवाददाता का कहना है कि भारी बारिश के बाद दक्षिण मुंबई में बिजली की सप्लाई बंद कर दी गई है.

राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी बीएमसी के नियंत्रण कक्ष पहुंचे. उन्होंने पत्रकारों से कहा, "हमने लोगों से कहा है कि वो ज़रूरी हो तो ही घर से बाहर निकलें. वाटर पंपिंग हो रही है, बीएमसी पूरी तरह से काम कर रही है."

मौसम विभाग ने आनेवाले 48 घंटों में मूसलाधार बारिश की चेतावनी दी है.

शुक्रवार दोपहर तक समुद्र में 4.5 मीटर ऊँची लहरें उठने की संभावना है जो समस्या को और गंभीर बना सकती है.

मछुआरे वापस बुलाए गए

मुंबई नगर निगम प्रशासन ने शहर के स्कूलों में छुट्टी घोषित कर दी है और नगरिकों से घरों से न निकलने की अपील की गई है.

मुंबई की महापौर स्नेहल अंबेकर ने कहा, "सभी पर्यटक या मुंबईवासी को समुद्र तट से दूर रहने की सलाह दी गई है. हमने सभी स्कूलों को बंद करने के आदेश दिए है."

मुंबई की सड़कें पानी से भर चुकी हैं जिसकी वजह से ट्रैफिक जाम हो गया है. मुंबई के डब्बेवाले भी अपनी सेवा बंद रखेंगे.

मौसम विभाग के अनुसार मुंबई मे 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ़्तार से हवा चल रही है. सभी मछुआरों को समुद्र से वापस बुला लिया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार