मेडिकल परीक्षा में जूता, तावीज़, स्कार्फ़ पहनने पर रोक

स्कार्फ़ इमेज कॉपीरइट bbc
Image caption परीक्षा हाल में स्कार्फ़ पहनकर आने पर भी पाबंदी लगा दी गई है.

सीबीएसई सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर एआईपीएमटी की परीक्षा दोबारा करा रही है.

तीन मई को ये परीक्षा हुई थी, लेकिन इस परीक्षा में बड़े पैमाने पर नकल की शिकायत के बाद सुप्रीम कोर्ट ने उसे रद्द कर दिया था और नए सिरे से परीक्षा कराने का निर्देश दिया था.

25 जुलाई को होने वाली इस परीक्षा के लिए सीबीएसई ने ड्रेस कोड जारी किया है जिसके तहत परिक्षार्थियों से हाफ़ स्लीव और बिना बड़े बटन वाले कपड़ने पहनने के लिए कहा गया है.

छात्रों के जूते पहनने पर पाबंदी लगा दी गई है और उनसे चप्पल पहनकर आने के लिए कहा गया है.

इसके साथ ही किसी भी तरह के आभूषण या ताबीज़ पहनकर परीक्षा देने पर भी पाबंदी होगी.

पेन-पेंसिल भी न लाएँ

इमेज कॉपीरइट CBSE

छात्रों से कहा गया है कि वो अपने साथ कुछ भी न लेकर आएँ जिसमें कलम, पेंसिल, रबर, शार्पनर, ज्योमेट्री बॉक्स आदि शामिल हैं.

छात्रों को सिर्फ़ अपना पहचान पत्र, परीक्षा प्रवेश पत्र और एक पासपोर्ट साइज़ और एक पोस्टकार्ड साइज़ फ़ोटो ही साथ लाने के लिए कहा गया है.

किसी भी तरह के संचार उपकरणों के ले जाने पर भी पाबंदी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार