अमिताभ ठाकुर के ख़िलाफ़ बलात्कार का मामला

अमिताभ ठाकुर, मुलायम सिंह यादव इमेज कॉपीरइट
Image caption अमिताभ ठाकुर का कहना है कि बलात्कार के आरोप मुलायम के ख़िलाफ़ मुँह खोलने का रिटर्न गिफ़्ट हैं.

लखनऊ पुलिस ने आईपीएस अधिकारी अमिताभ ठाकुर के ख़िलाफ़ बलात्कार का मामला दर्ज किया है.

लखनऊ के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजेश पांडेय ने बीबीसी को बताया, "एक महिला ने कल डीजीपी से मुलाक़ात कर अमिताभ ठाकुर के ख़िलाफ़ बलात्कार के आरोप लगाए जिसके बाद बलात्कार की धाराओं में मुक़दमा दर्ज कर लिया गया है."

पुलिस के मुताबिक अमिताभ की पत्नी नूतन ठाकुर के ख़िलाफ़ साज़िश में सहयोग करने का मामला दर्ज किया गया है.

अमिताभ ठाकुर ने शनिवार को समाजवादी पार्टी के मुखिया और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव के ख़िलाफ़ धमकी देने की शिकायत दर्ज कराई थी.

उन्होंने धमकी का एक ऑडियो भी जारी किया है.

इमेज कॉपीरइट
Image caption अमिताभ ठाकुर की पत्नी और सामाजिक कार्यकर्ता नूतन ठाकुर पर भी साज़िश में सहयोग का मामला दर्ज किया गया है.

मुलायम का रिटर्न गिफ़्ट

कथित बलात्कार के आरोपों पर प्रतिक्रिया देते हुए अमिताभ ठाकुर ने कहा, "ये मुक़दमा मुलायम सिंह यादव के ख़िलाफ़ शिकायत दर्ज कराने का रिटर्न गिफ़्ट है."

अमिताभ ठाकुर का कहना है कि शासन-प्रशासन के भ्रष्टाचार के ख़िलाफ़ मुँह खोलने के कारण उन्हें फ़र्ज़ी आरोपों में फंसाया जा रहा है.

इमेज कॉपीरइट
Image caption ठाकुर का कहना है कि वो ज़मानत के लिए याचिका दायर नहीं करेंगे.

उन्होंने कहा, "जिस महिला ने मुक़दमा दर्ज कराया है मैंने और मेरी पत्नी ने उसके ख़िलाफ़ पहले ही धोखाधड़ी का मामला दर्ज कराया हुआ है."

उन्होंने बताया, "इस महिला ने सबसे पहले पिछले साल दिसंबर में आरोप लगाए थे जो इस साल जनवरी में हमारे संज्ञान में आए थे. हमने ख़ुद अपने ख़िलाफ़ लगे आरोपों की जाँच के लिए धरना दिया था. शुरुआती जाँच में पुलिस ने बलात्कार के आरोपों को फ़र्ज़ी पाया था."

वहीं पुलिस का कहना है कि महिला ने दोबारा शिकायत दी है.

गिरफ़्तारी संभव

पुलिस अधीक्षक ने बीबीसी को बताया, "महिला के कलमबंद बयान दर्ज किए जाएंगे और मेडिकल कराया जाएगा."

उन्होंने कहा, "आरोपों की सत्यता की जाँच के बाद अमिताभ ठाकुर को गिरफ़्तार भी किया जा सकता है."

इमेज कॉपीरइट
Image caption अमिताभ ठाकुर ने शनिवार को मुलायम सिंह यादव के ख़िलाफ़ शिकायत दी थी.

गिरफ़्तारी के सवाल पर अमिताभ ठाकुर ने कहा, "में ज़मानत की अर्ज़ी नहीं दूंगा. हाँ अपने ख़िलाफ़ लगे आरोपों की सीबीआई जाँच की माँग ज़रूर करूंगा."

अमिताभ ठाकुर ने मुलायम सिंह यादव के धमकी देने की शिकायत पुलिस में की है.

उनकी शिकायत पर एफ़आईआर दर्ज न किए जाने के सवाल पर राजेश पांडेय ने कहा, "ठाकुर ने अभी सिर्फ़ लिखित शिकायत दी है. कोई ऑडियो पेश नहीं किया है. उनके आरोपों की भी जाँच की जा रही है. ज़रूरत पड़ने पर एफ़आईआर दर्ज की जाएगी."

ठाकुर के आरोपों पर अभी समाजवादी पार्टी या मुलायम सिंह यादव की ओर से कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार