ओडिशा: 'जादू-टोने' के शक में छह की हत्या

  • 14 जुलाई 2015
odisha, file picture

ओडिशा के आदिवासी बहुल क्योंझर ज़िले के एक गांव में 'जादू-टोना' करने के संदेह में गांव वालों ने एक ही परिवार के छह सदस्यों की हत्या कर दी.

इस घटना में गंभीर रूप से घायल परिवार के दो अन्य सदस्यों को सोमवार को अस्पताल पहुंचाया गया.

सूचना मिलने के बाद बड़बिल के पुलिस अधिकारी अजय प्रताप स्वाईं सोमवार को घटनास्थल पर पहुंचे. घर के अंदर सभी के शव पड़े थे और सभी की गर्दन किसी धारदार हथियार से काट दी गई थी.

स्वाईं ने बीबीसी को टेलीफोन पर बताया कि घायलों के बयान के आधार पर एक व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया है जबकि बाकी अभियुक्तों की तलाश अभी जारी है.

क्राइम ब्रांच के हवाले जांच

भुवनेश्वर में राज्य के पुलिस महानिदेशक संजीव मारिक ने बताया कि मामले की गंभीरता को देखते हुए इसकी जांच क्राइम ब्रांच को दे दी गई है.

मारिक ने कहा, "हमने इसे 'रेड फ्लैग' केस की मान्यता दी है. मैंने मामले की जांच डीएसपी के हवाले की है और एसपी से कहा है कि इस पर निगरानी रखें. जांच एडीजी की देखरेख में होगी."

ओडिशा में हाल ही में हुए एक सर्वेक्षण के अनुसार पछले पांच वर्षों में राज्य में इस तरह की 274 हत्याएं हुई हैं.

समस्या से निपटने के लिए ओडिशा सरकार ने दो साल पहले 'ओडिशा प्रिवेंशन ऑफ़ विच-हंटिंग' कानून पारित किया था लेकिन इसके बावजूद ऐसी घटनाओं में कोई कमी नहीं आई है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार