ड्रोन 'चीन में ही बना था': चीनी मीडिया

ड्रोन विमान इमेज कॉपीरइट Pakistani Military

चीन के सरकारी मीडिया का कहना है कि पाकिस्तान ने जिस ड्रोन को मार गिराने का दावा किया था 'वो चीन में ही बना था'.

चीन के पीपल्स डेली ने शंघाई की 'ऑब्ज़र्वर' नाम की एक वेबसाइट के हवाले से कहा है कि इस ड्रोन की पहचान चीन में बने डीजेआई फ़ैंटम 3 ड्रोन के रूप में हुई है.

ऑब्ज़र्वर के मुताबिक ऐसा एक ड्रोन 1200 डॉलर में बिकता है.

इमेज कॉपीरइट indianembassy
Image caption जयशंकर ने कहा था कि ड्रोन चीनी डिज़ाइन वाला लग रहा है.

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने दावा किया था कि पाकिस्तान ने बुधवार को नियंत्रण रेखा के पार भीमबर इलाक़े में पहुँचे एक 'भारतीय ड्रोन' को मार गिराया.

भारत ने भेजा जासूसी ड्रोन: पाकिस्तान

हालांकि भारत ने पाकिस्तान के दावों को ग़लत बताया था.

भारतीय विदेश सचिव एस जयशंकर ने कहा था, ''पाकिस्तान जिस ड्रोन की तस्वीर दिखा रहा है, उस तरह का ड्रोन भारतीय सेना के पास नहीं है.''

पीपल्स डेली का कहना है कि डीजेआई एक चीनी कंपनी है. इसकी स्थापना 2006 में फ़्रैंक वैंग ने की थी.

इसका मुख्यालय गुआंगडोंग के शेनज़ेन में है. ये एरियल फ़ोटोग्राफ़ी और वीडियोग्राफ़ी के लिए ड्रोन बनाती है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार