सीमा पर ईद की मिठाइयों का लेन देन नहीं

वाघा सीमा पर भारत और पाकिस्तान के सुरक्षा बल इमेज कॉपीरइट AFP

ईद के मौके पर भारत-पाकिस्तान की सीमा पर वाघा और अटारी में तैनात सुरक्षा बलों के बीच मिठाइयों का आदान-प्रदान इस बार नहीं हुआ.

सीमा सुरक्षा बल के डीआईजी एमएफ फ़ारूक़ी ने इसकी पुष्टि की है.

'सहमति नहीं बनी'

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

बीबीसी के साथ बातचीत में फ़ारूक़ी ने बताया कि इस बार मिठाइयों का लेन-देन नहीं हो सका. पाकिस्तान और भारत के सुरक्षा बलों के अफ़सरों के बीच इस मुद्दे पर सहमति नहीं बन पाई.

उन्होंने कहा कि दोनों देशों के अफ़सरों की रूटीन बैठक में ईद की मिठाइयां देने का प्रस्ताव उन्होंने किया था. पर पाकिस्तानी अफ़सरों ने इसमें दिलचस्पी नहीं ली.

बीएसएफ़ के डीआईजी ने इसका कारण बताने से इनकार कर दिया. यह पूछे जाने पर कि क्या सीमा पर छाए तनाव की वज़ह से ऐसा हुआ, फ़ारूक़ी ने कहा कि वे इसकी व्याख्या नहीं कर सकते.

समन्वय की कमी?

इमेज कॉपीरइट AFP

फ़ारूक़ी ने ज़ोर देकर कहा, "हम सीमा पर हमेशा शांति और सद्भाव बनाए रखने चाहते हैं. हम हर बार हर तरह का समन्वय बनाते हैं. पर इस बार ऐसा नहीं हो सका."

उन्होंने यह भी कहा कि मिठाइयों का लेन देन हर त्यौहार में होता है. ईद पाकिस्तान और भारत दोनों देशों के लोगों का त्यौहार है. लिहाज़ा, इसका अपना महत्व है.

वाघा सीमा पर मिठाइयों के लेन देन न होने की घटना इसके पहले भी हो चुकी है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार