झारखंड, मध्य प्रदेश में बारिश से 22 मरे

झारखंड में बाढ़ इमेज कॉपीरइट NEERAJ SINHA

मध्यप्रदेश और झारखंड में लगातार पिछले दो दिनों से लगातार बारिश की वजह से 22 लोगों की मौत हो चुकी है और कई लोगों के बाढ़ में फंसे होने की आशंका है.

बारिश की वजह से रेल और सड़कों पर आवाजाही भी बुरी तरह प्रभावित हुई है.

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल से लगे सीहोर ज़िले में दस लोग बारिश के पानी में बह गए.

अब तक आठ शवों को पानी से निकाला जा चुका है.

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मृतकों के परिवार वालों से मुलाकात की और उन्हें दो-दो लाख रुपये मुआवज़ा देने की घोषणा की है.

इमेज कॉपीरइट S NIAZI

मुख्यमंत्री ने प्रदेश के सभी ज़िलों में आपदा प्रबंधन दल को तैयार रहने के निर्देश भी दिए.

वही उज्जैन और इंदौर ज़िलों में बारिश अभी भी जारी है. आम जनजीवन पूरी तरह से अस्त व्यस्त हो गया है.

प्रदेश मौसम विभाग के निदेशक अनुपम कश्यप ने कहा, “इंदौर, उज्जैन, होशंगाबाद और हरदा ज़िलों में अगले 24 घंटो में भारी बारिश की आशंका है.”

इमेज कॉपीरइट NEERAJ SINHA

झारखंड

उधर झारखंड में भी पिछले 72 घंटों से जारी बारिश में अब तक 12 लोगों की मौत हो चुकी है.

झारखंड के पलामू, लोहरदगा, गुमला, रांची में कई इलाकों का संपर्क भी टूट गया है.

इमेज कॉपीरइट BHOLA

राज्य की कई नदियां उफान पर हैं. इन में भारी बारिश से आधा दर्जन छोटे पुल टूट गए हैं.

(भोपाल से शुरैह नियाज़ी और रांची से नीरज सिन्हा बीबीसी हिंदी डॉट कॉम के लिए)

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)