बलोच नेता ने कहा, पाक से लड़ते रहेंगे

बलोच अलगाववादी इमेज कॉपीरइट BBC World Service

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत में एक मुख्य अलगाववादी नेता ने कहा है कि वो अपनी लड़ाई जारी रखेंगे.

हालांकि पाकिस्तान की सरकार ने अलगावादी लड़ाकों को आम माफी देने के साथ-साथ नकद राशि देने की पेशकश भी की है.

लेकिन बलोच नेता अल्लाह नज़र ने बीबीसी उर्दू से कहा कि आज़ादी इस विशाल क्षेत्र का 'ऐतिहासिक अधिकार' है.

बलूचिस्तान पाकिस्तान के लगभग आधे क्षेत्रफल के बराबर है और प्राकृतिक संसाधनों से भरपूर है. लेकिन वहां लंबे समय से अलगाववादी आंदोलन चल रहा है.

अल्लाह नज़र के मुताबिक़ "बलूचिस्तान की आज़ादी एक कड़वा सच है. (पाकिस्तान के सेना प्रमुख) जनरल राहील शरीफ और उनकी सरकार के सहयोगियों को ये सच स्वीकार करना होगा."

'चीन कहीं और जाए'

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

बलूचिस्तान लिबरेशन फ्रंट के नेता नज़र ने चीन से कहा कि वो 'कहीं और जाकर निवेश करे'.

चीन की सरकार अपने कशगर क्षेत्र से बलूचिस्चान के ग्वादर बंदरगार तक सड़क बना रही है.

हाल ही में कई बलोच अलगाववादियों ने माफ़ी के प्रस्ताव को स्वीकार करते हुए हथियार छोड़ दिए हैं.

लेकिन नज़र का कहना है कि वो इन लोगों के आत्मसमर्पण की परवाह नहीं करते.

अप्रैल में उनके संगठन ने एक बांध परियोजना पर बीस से ज़्यादा मजदूरों को मारने का दावा किया क्योंकि उन्हें सेना ने काम पर लगा रखा था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)