‘पटना लगाइए तो बीबीसी लग जाता है’

 मोदी बिहार रैली समर्थक इमेज कॉपीरइट Prashant Ravi

सितंबर-अक्तूबर में होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव के लिए शनिवार को मुज़फ़्फरपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने प्रचार अभियान की शुरुआत की.

प्रधानमंत्री स्थानीय चक्कर मैदान में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन यानी एनडीए की परिवर्तन रैली के मुख्य वक्ता थे.

रैली में उन्होंने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और राष्ट्रीय जनता दल के अध्यक्ष लालू यादव पर चुटीले अंदाज में निशाना साधा.

इस रैली में नरेंद्र मोदी के अलावा भारतीय जनता पार्टी सहित एनडीए के दूसरे दलों के कुछ प्रमुख नेताओं ने भी कई दिलचस्प बातें कहीं.

पढ़िए क्या कुछ कहा इन नेताओं नेः

इमेज कॉपीरइट Prashant Ravi
Image caption रामविलास पासवान

नीतीश कुमार ने हर महादलित परिवार को तीन डेसिमल ज़मीन, रेडियो और साइकिल देने का वादा किया था. कहां गया रेडियो और साइकिल. कुछ लोगों को रेडियो मिला भी. लेकिन ऐसा रेडियो मिला कि पटना लगाइए तो बीबीसी लग जाता है.

- रामविलास पासवान, जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री

इमेज कॉपीरइट Prashant Ravi
Image caption जीतनराम मांझी

कहा गया कि जीतनराम मांझी विभीषण है. मैं स्वीकार करता हूं कि मैं विभीषण हूं इसलिए कि मुझे दुराचारी रावण का खात्मा करना है. इसके लिए राम के रूप में अवतरित नरेंद्र मोदी जी को हम ही बताएंगे कि रावण की जान कहां है.

- जीतनराम मांझी, हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा (सेक्यूलर) के नेता और बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री

इमेज कॉपीरइट Prashant Ravi
Image caption सुशील मोदी

नीतीश कुमार दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से बिहार चुनाव के लिए मदद मांगने गए थे. लेकिन मैं बताना चाहता हूं कि अरविंद केजरीवाल तो क्या नवाज शरीफ और बराक ओबामा भी आ जाए तो वे भी बिहार में भाजपा सरकार बनने से नहीं रोक पाएंगे.

- सुशील मोदी, बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता और सूबे के पूर्व उपमुख्यमंत्री

इमेज कॉपीरइट Prashant Ravi
Image caption नंदकिशोर यादव

बेचैनी में एनडीए के खिलाफ गठबंधन करने के लिए लोग ज़हर भी पीने के लिए तैयार हो गए हैं. नरेंद्र मोदी के विकास के माॅडल के ख़िलाफ यहां के नेता ‘नीला’ माॅडल बना रहे हैं. ‘नी’ से नीतीश कुमार और ‘ला’ से लालू यादव. गांव के लोग जानते हैं कि सांप काटने से शरीर नीला हो जाता है. इसलिए ये ‘नीला’ माॅडल ज़हर का माॅडल है जिसे बिहार के लोग स्वीकार करने को तैयार नहीं है.

- नंदकिशोर यादव, बिहार भाजपा के वरिष्ठ नेता और विधानसभा में विराधी दल के नेता

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार