पाक उच्चायुक्त से नहीं मिलेंगे मुख्यमंत्री बादल

  • 28 जुलाई 2015
इमेज कॉपीरइट PIB

पंजाब के गुरदासपुर में हुए चरमपंथी हमले के बाद पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने पाकिस्तानी उच्चायुक्त अब्दुल बासित से पूर्व निर्धारित बैठक रद्द कर दी है.

सोमवार को गुरदासपुर के दीनानगर में हुए चरमपंथी हमले में तीनों चरमपंथी, पुलिस अधीक्षक समेत चार पुलिसकर्मी और तीन नागरिक मारे गए थे.

पाकिस्तान के उच्चायुक्त के साथ मुख्यमंत्री बादल की 29 जुलाई को चंडीगढ़ में शिष्टाचार के तौर पर मिलाकात होनी थी जिसकी इच्छा उच्चायुक्त ने ही ज़ाहिर की थी.

पंजाब के मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार हरचरण सिंह बैंस ने पत्रकार रविंदर सिंह रॉबिन को बताया, "मौजूदा हालात में पाक उच्चायुक्त से मिलना ठीक नहीं होगा. कल जो हुआ, उसमें स्पष्ट संकेत हैं और जीपीएस की रीडिंग भी साफ़ बताती है कि हमलावर पाकिस्तान से आए थे. इसे ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री ने फैसला किया है कि वे पाक उच्चायुक्त से नहीं मिलेंगे."

इमेज कॉपीरइट AFP

मुआवज़ा

उधर पंजाब सरकार ने सोमवार के चरमपंथी हमले के बाद अस्पताल में नाजुक हालत में भर्ती घायल हर नागरिक के परिवार को 5 लाख रुपए, और एक सदस्य को सरकारी नौकरी देने की घोषणा की है.

इमेज कॉपीरइट PTI

हमले में मारे गए गुरदासपुर के पुलिस अधीक्षक (डिटेक्टिव) बलजीत सिंह के परिवार को 10 लाख रुपए, परिवार के किसी काबिल सदस्य को सरकारी नौकरी, और बची हुई सेवा का वेतन दिए जाने की घोषणा की गई है.

इसके अलावा सरकार ने कहा है कि हर मारे गए पुलिसकर्मी के परिवार को 10-10 लाख रुपए, बची हुई सर्विस का वेतन और परिवार के एक सदस्य को सरकारी नौकरी दी जाएगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)