चारमीनार को गिरा दिया जाएगा, अगर..

  • 3 अगस्त 2015
चारमीनार इमेज कॉपीरइट AFP GETTY

तेलंगाना के उप-मुख्यमंत्री महमूद अली के चारमीनार को लेकर दिए एक बयान पर विवाद हो गया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार महमूद अली ने कहा था, "चारमीनार अगर कमज़ोर हो गई तो उसे गिरा दिया जाएगा."

चारमीनार पुराने हैदराबाद में स्थित 16वीं सदी का स्मारक है, जिसे देखने बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं.

तेलंगाना सरकार ने हाल ही में 90 साल पुराने उस्मानिया जनरल हॉस्पिटल के पुनर्निमाण का फ़ैसला किया है और उसके लिए इसकी पुरानी इमारत को गिराया जाएगा.

विपक्ष का विरोध

इमेज कॉपीरइट AFP

विपक्षी कांग्रेस और दूसरे दल सरकार के इस फ़ैसले का विरोध कर रहे हैं.

उनका कहना है कि वो सरकार को इस ऐतिहासिक हॉस्पिटल की इमारत से छेड़छाड़ नहीं करने देंगे.

महमूद ने सरकार के इस फ़ैसले का बचाव करते हुए चारमीनार को गिराने की बात कही.

महमूद ने कहा, "हम 10-15 माले का बड़ा अस्पताल बनाएंगे जिनमें अभी की तुलना में दस गुना ज़्यादा मरीज़ों का इलाज हो सकेगा."

चारमीनार पर दिए अपने बयान की सफ़ाई देते हुए महमूद ने कहा, "मैं तो एक सामान्य बात कर रहा था. अगर चारमीनार आने वाले 200, 400 या पांच सौ सालों में कमज़ोर हो जाती है तो उसे गिरा दिया जाएगा. कमज़ोर इमारत किसी भी वक़्त गिर सकती है और उससे जान-माल का नुक़सान हो सकता है."

(बीबीसी हिंदी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)