गोवा के पूर्व मंत्री अलेमाओ गिरफ़्तार

चर्चिल अलेमाओ इमेज कॉपीरइट prasad sheth

लुइस बर्जर रिश्वतकांड में पुलिस ने गोवा के लोक निर्माण विभाग (पीडब्लूडी) के पूर्व मंत्री चर्चिल अलेमाओ को बुधवार रात गिरफ़्तार कर लिया.

गोवा पुलिस की अपराध शाखा ने उन्हें रात क़रीब साढ़े दस बजे वार्षा स्थित उनके घर से हिरासत में लिया और पूछताछ के लिए रिवांदर स्थित अपने दफ़्तर ले गई.

रात क़रीब साढ़े ग्यारह बजे उन्हें गिरफ़्तार कर लिया गया. अलेमाओ इस मामले में गिरफ़्तार होने वाले पहले राजनीतिक व्यक्ति हैं.

रिश्वत के आरोप

अपराध शाखा के पुलिस अधीक्षक कार्तिक कश्यप ने अलेमाओ की गिरफ़्तारी की पुष्टि की है.

अलेमाओ का नाम उन मंत्रियों में शामिल है, जिनपर अमरीकी कंसल्टिंग फ़र्म लुइस बर्जर इंटरनेशनल इंक से रिश्वत लेने का आरोप है.

गोवा पुलिस इस रिश्वतकांड की जांच कर रही है. लुइस बर्जर ने गोवा के मंत्रियों और सरकारी अधिकारियों को छह करोड़ रुपए की रिश्वत देने की बात स्वीकार की है.

माना जा रहा है कि दिगंबर कामत के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में लुइस बर्जर ने कथित तौर पर रिश्वत देकर गोवा में परियोजनाएं हासिल की.

लुइस बर्जर पानी की आपूर्ति और सीवर परियोजनाओं के लिए सलाहकार संस्था है. इसमें जापान की इंटरनेशनल कारपोरेशन एजेंसी का पैसा लगा हुआ है.

अलेमाओ के लोक निर्माण विभाग का मंत्री रहते हुए जीआईसीए परियोजना को मंज़ूरी दी गई थी. गिरफ़्तारी से पहले अपराध शाखा अलेमाओ से तीन बार पूछताछ कर चुकी थी.

अलेमाओ के अलावा पूर्व मुख्यमंत्री दिगंबर कामत पर भी इस परियोजना को हरी झंडी देने के लिए रिश्वत लेने का आरोप है.

कामत ने गिरफ़्तारी से बचने के लिए अग्रिम ज़मानत की याचिका दायर कर रखी है. उनकी याचिका पर सात अगस्त को सुनवाई होगी.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं. )

संबंधित समाचार