30 छात्र हॉस्टल छोड़ें: एफ़टीआईआई

  • 7 अगस्त 2015
एफ़टीआईआई विरोध प्रदर्शन इमेज कॉपीरइट Devidas Deshpande

पुणे के भारतीय फ़िल्म और टेलीविज़न संस्थान (एफ़टीआईआई) ने 30 छात्रों को हॉस्टल ख़ाली करने का नोटिस दिया है.

संस्थान के छात्र नए निदेशक गजेंद्र चौहान के विरोध में 57 दिनों से हड़ताल पर हैं.

इससे पहले 13 छात्रों को निष्कासित करने का नोटिस दिया गया था.

इस बीच प्रशासन ने ठेके पर काम कर रहे 82 कर्मचारियों को तत्काल प्रभाव से निकालने का फ़ैसला लिया है.

एफ़टीआईआई के प्रभारी निदेशक प्रशांत पाठराबे ने बताया कि उक्त 30 छात्र कोर्स के समापन के बाद भी हॉस्टल में रह रहे हैं और इसलिए ही उनसे हॉस्टल ख़ाली करने के लिए कहा गया है.

छात्रों का जवाब

साथ ही 2008 बैच के छात्रों से असांइनमेंट जल्द से जल्द जमा करने के लिए कहा गया है. इनका मूल्यांकन "जहां हो जैसे हो" के आधार पर किया जाएगा.

नोटिस के जवाब में छात्रों ने एक ज्ञापन जारी किया है जिसमें प्रशासन के आरोपों का उत्तर दिया गया है.

छात्रों का कहना है कि जब ये छात्र आए थे तब हॉस्टल में जगह नहीं थी इसलिए उन्हें काफ़ी दिक़्क़तों का सामना करना पड़ा था.

छात्रों ने प्रशासन से मूल्यांकन की प्रक्रिया टालने के लिए भी कहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार