चीन विस्फोट: मृतकों की तादाद 112 हुई

चीन के रसायनिक गोदाम में विस्फो़ट से हुई तबाही इमेज कॉपीरइट reuters

चीनी अधिकारियों का कहना है कि चीन के पूर्वोत्तर शहर तियानजिन में हुए धमाकों के चार दिन बाद भी 95 लोग लापता हैं, जिनमें 85 दमकल कर्मी हैं.

ख़तरनाक रसायनों के गोदाम में हुए धमाकों में 112 लोगों की मौत हो गई और सैकड़ों लोग घायल हैं जिन्हें अस्पतालों में भर्ती कराया गया है.

विस्फोट इतने जबरदस्त थे कि ज़्यादातर शवों की शिनाख्त नहीं हो पा रही है. अब तक सिर्फ 24 मृतकों की पहचान हो सकी है. शवों की डीएनए जांच की जा रही है.

इस बीच अफवाह फैलाने के आरोपों में लगभग 50 वेबसाइटों को बंद कर दिया गया है.

समाचार एजेसी शिन्हुआ के मुताबिक ये वेबसाइटें धमाकों के बारे में अपुष्ट जानकारियां प्रकाशित कर रही थीं जिससे लोगों में हड़कंप फैल रहा था.

बुधवार को धमाकों के बाद से सैकड़ों सोशल मीडिया अकाउंट्स बंद किए गए हैं.

चीनी प्रधानमंत्री ली कचियांग ने रविवार को विस्फोट स्थल का मुआयना किया.

रसायन होने की पुष्टि

मारे गए लोगों में 21 दमकल कर्मी भी शामिल हैं.

इमेज कॉपीरइट EPA

घायल हुए 721 लोगों में 25 की हालत गंभीर है और की 33 नाज़ुक.

लापता लोगों के रिश्तेदारों और स्थानीय बाशिंदों ने विरोध प्रदर्शन किए हैं. उनका कहना है कि सरकार ने उन्हें रसायनों के बारे में पूरी जानकारी नहीं दी.

जिन लोगों के घर धमाकों की वजह से ढह गए, उन्होंने मुआवज़े की मांग की है.

इमेज कॉपीरइट AFP

चीनी सेना के वरिष्ठ अधिकारी जनरल शी लुज़ ने पहली बार पुष्टि की है कि जहां विस्फोट हुए वहां सैकड़ों टन सोडियम साइनाइड रखा हुआ था.

रसायनिक प्रदूषण फैलने के डर से घटनास्थल के तीन किलोमीटर के दायरे से लोगों को हटाया जा रहा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार