सौर ऊर्जा से चलने लगा कोच्चि हवाई अड्डा

सोलर पॉवर प्रोजेक्ट इमेज कॉपीरइट Pragit P Elayath

भारत के दक्षिणी राज्य केरल में कोच्चि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा सौर ऊर्जा से चलने वाला विश्व का पहला हवाई अड्डा बन गया है.

केरल के मुख्यमंत्री ओम्मन चांडी ने 12 मेगावॉट क्षमता वाले सोलर पॉवर प्रोजेक्ट का उद्घाटन किया जिसने मंगलवार से काम करना शुरू कर दिया है.

इमेज कॉपीरइट CIAL.AERO

कोच्चि इंटरनेशनल एयरपोर्ट लिमिटेड (सीआईएएल) के निदेशक एसीके नैयर ने बीबीसी को बताया, " हवाई अड्डे को लगभग 50,000 यूनिट बिजली की ज़रूरत होती है और सौर ऊर्जा का इस्तेमाल करते हुए इसे पूरी तरह से हासिल किया जा सकता है.

इमेज कॉपीरइट Pragit P Elayath

वहीं मुख्यमंत्री चांडी का कहना है कि हवाई अड्डे में सोलर पॉवर प्रोजेक्ट से अगले 25 वर्षों में कार्बन डाय ऑक्साइड के उत्सर्जन में 3 लाख मीट्रिक टन की कमी आएगी जो लगभग 30 लाख पेड़ लगाने के बराबर है.

सीआईएएल ने सौर ऊर्जा के इस्तेमाल की शुरुआत वर्ष 2013 में की थी. तब 100 किलोवॉट क्षमता वाला सोलर पॉवर प्लांट लगाया गया था. धीरे-धीरे इसकी क्षमता को बढ़ाया गया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार