हुर्रियत नेताओं से न मिलें सरताज: भारत

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

हुर्रियत नेताओं को पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार सरताज अज़ीज़ से मिलने का न्यौता दिनों-दिन नए-नए विवादों में घिरता नज़र आ रहा है.

भारत के विदेश मंत्रालय ने पाकिस्तान को सलाह दी है कि सरताज अज़ीज़ का हुर्रियत प्रतिधिनियों से मिलना उचित नहीं.

हुर्रियत मामले पर दिखी भारत की कमज़ोरी

विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने ट्वीट कर ये जानकारी दी है.

भारत ने पाकिस्तान से कहा है कि ऐसी मुलाक़ात उफ़ा में जारी संयुक्त बयान के भावना के ख़िलाफ़ है, जिसमें आतंकवाद के ख़िलाफ़ साझा काम करने की बात थी.

भारत और पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के बीच 23 अगस्त को बात होनी है.

जानकारी

इमेज कॉपीरइट AP

विकास स्वरूप ने ये भी बताया कि भारत ने बातचीत का प्रस्तावित एजेंडा पाकिस्तान को 18 अगस्त को ही बता दिया था और भारत ने पाकिस्तान से एजेंडे के बारे में जानकारी मांगी है.

पिछले साल भारत ने हुर्रियत नेताओं से पाकिस्तानी उच्यायुक्त की मुलाक़ात को लेकर विदेश सचिव स्तर की बातचीत को रद्द कर दिया था.

अब सरताज अज़ीज़ से हुर्रियत नेताओं की प्रस्तावित मुलाक़ात का मामला भी गरमा गया है.

पाकिस्तान ने गुरुवार को कहा था कि भारत के साथ बातचीत से पहले हुर्रियत नेताओं से मिलने की परंपरा रही है और इस बार भी इसमें कोई नई बात नहीं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार