'प्याज़ की कालाबाज़ारी क्यों नहीं रोकते मोदी'

  • 23 अगस्त 2015
लालू प्रसाद यादव इमेज कॉपीरइट PRASHANT RAVI

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल के प्रमुख लालू प्रसाद यादव ने केंद्र सरकार पर निशाना साधा है. प्याज़ की बढ़ती कीमतों पर उन्होंने कहा है कि नरेंद्र मोदी सरकार जमाखोरों को क्यों नहीं पकड़ रही है.

उन्होंने विदेश में जमा काले धन पर भी नरेंद्र मोदी को उनके चुनावी वादों की याद दिलाई.

ट्विटर पर अपने टिप्पणी में उन्होंने कहा, ''प्याज़ की कालाबाज़ारी और जमाखोरों को तो पकड़ नहीं सकते, बात करते है विदेशों से काला धन लाने की. लाओ कालाधन दम है तो? अरे कहाँ हैं 56 इंची वाले''

तस्वीर भी साझा की

इमेज कॉपीरइट BBC World Service

केवल ट्वीट ही नहीं उन्होंने एक तस्वीर भी ट्विटर पर साझा की है.

इस तस्वीर में दिल्ली में कांग्रेस शासन के दौरान प्याज़ की बढ़ी कीमतों के वक़्त दिल्ली भाजपा के नेता विजय गोयल अन्य कार्यकर्ताओं के साथ विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं.

लालू ने इस तस्वीर का शीर्षक दिया है- जुमला पार्टी के दोहरे मानक.

बिहार में अगले 1-2 माह में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. इसके मद्देनज़र सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड और राष्ट्रीय जनता दल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला करने का एक भी मौका नहीं छोड़ रहे.

वहीं पिछले एक महीने के दौरान प्रधानमंत्री मोदी भी बिहार के तीन दौरों के दौरान राजद और जदयू पर जमकर प्रहार कर रहे हैं.

देशभर में रुला रहा है प्याज़

इमेज कॉपीरइट AP

प्याज़ कारोबारियों का कहना है कि पिछले दो-तीन हफ्ते के दौरान मांग बढ़ने और आवक कम होने से प्याज की क़ीमतों में उछाल आई है.

30 से 35 रुपए किलो बिकने वाला प्याज़ 50 से 60 रुपए किलो बिक रहा है. कारोबारियों का कहना है कि बाढ़ के कारण नासिक से प्याज़ नहीं आ रहा है, जिस वजह से प्याज़ महंगा हो गया है.

वहीं, ग्राहकों का कहना है कि प्याज़ इतना महंगा हो गया है कि वे प्याज़ की ख़रीदारी में कटौती करने लगे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार