आरक्षण ने देश को पछाड़ दिया: हार्दिक पटेल

  • 30 अगस्त 2015
इमेज कॉपीरइट BBC World Service

गुजरात के पटेल समुदाय के लिए आरक्षण की मांग को लेकर आंदोलन चला रहे हार्दिक पटेल रविवार को दिल्ली पहुंचे.

इस दौरान वो जाटों और गुर्जरों समेत आरक्षण की मांग कर रहे अन्य नेताओं से बातचीत कर सकते हैं.

हार्दिक ने दिल्ली में पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि वह भविष्य की योजना बनाने के लिए दिल्ली आए हैं, किसी मंत्री से मिलने के लिए नहीं.

पाटीदार अनामत आंदोलन समिति’ के 22 वर्षीय नेता ने संवाददाताओं से कहा, ''हमें पूरे देश में इस मुद्दे को ले जाना है. हर किसी के सहयोग से आरक्षण के मुद्दे के बारे में हर आदमी, हर समाज और राज्य को बताना है.''

उन्होंने कहा, ''आरक्षण से देश 35 वर्ष पिछड़ गया है.''

अन्य नेताओं से मुलाक़ात मुमकिन

इमेज कॉपीरइट AFP

हार्दिक के एक सहयोगी ने कहा, ''हम लोग आरक्षण की मांग कर रहे अन्य समुदायों के नेताओं से बातचीत करेंगे और देखेंगे कि आंदोलन को आगे कैसे ले जाया जा सकता है.''

बीकॉम के स्नातक हार्दिक ने 25 अगस्त को अहमदाबाद में एक विशाल रैली की थी. रैली में हिंसा होने के बाद पुलिस ने उन्हें कुछ समय के लिए हिरासत में भी लिया था.

इसके बाद हुई हिंसा में 10 व्यक्ति मारे गए, कई घायल हो गए और शहर के कुछ हिस्सों में प्रशासन को कर्फ़्यू लगाना पड़ा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार