नेहरू की विरासत को मिटाने की कोशिश: सोनिया

सोनिया गांधी इमेज कॉपीरइट AFP

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने मंगलवार को कांग्रेस कार्यकारिणी की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा.

सोनिया गांधी ने कहा कि जवाहर लाल नेहरू को विशेष रूप से निशाना बनाते हुए इतिहास दोबारा लिखने की कोशिश की जा रही है.

पार्टी की बैठक में सोनिया ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सरकार ना सिर्फ़ देश के इतिहास को झुठलाने का प्रयास कर रही है, बल्कि देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरु की विरासत को भी मिटाने पर तुली है.

सोनिया गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री 'एक असम्मानित फ़्लिप-फ़्लॉप बन कर रह गए हैं.'

सोनिया ने कहा कि भूमि अधिग्रहण बिल पर केंद्र सरकार का यू-टर्न बताता है कि सरकार ज़मीनी हक़ीक़त से कोसों दूर है.

संकेत

उन्होंने कहा कि पिछले हफ़्ते इस बात के स्पष्ट संकेत मिल गए कि मोदी सरकार को राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ नियंत्रित और निर्देशित कर रही है और आरएसएस का एजेंडा क्या है ये सब जानते हैं.

इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption सोनिया गांधी का कहना है कि प्रधानमंत्री असम्माननीय फ़्लिप-फ़्लॉप बनकर रह गए हैं.

पाकिस्तान के साथ संबंधों को लेकर भी सोनिया ने मोदी सरकार पर निशाना साधा.

उन्होंने कहा कि पाकिस्तान पर स्पष्ट नीति बनाने के बजाए सरकार अभी तक ये ही तय नहीं कर पा रही है कि उसे करना क्या चाहिए.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि महंगाई लगातार बढ़ रही है और अर्थव्यस्था नीचे जा रही है.

उन्होंने कहा कि ये पीड़ादायक है कि प्रधानमंत्री के चुनाव के दौरान किए गए ज़्यादातर वादे सिर्फ़ हवाबाज़ी ही निकले.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार