एचएस फुल्का ने 'आप' छोड़ी

हरविंदर सिंह फुल्का इमेज कॉपीरइट HS Phoolka Facebook

आम आदमी पार्टी को एक और झटका लगा है. पार्टी के नेता और वरिष्ठ वकील हरविंदर सिंह फुल्का ने पार्टी से इस्तीफ़ा दे दिया है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार फुल्का का कहना है कि वे 1984 के दंगा पीड़ितों के न्याय दिलाना चाहते हैं.

फुल्का ने कहा कि यह लड़ाई अब निर्णायक मोड़ पर है और वे अपना पूरा ध्यान इसी पर लगाना चाहते हैं.

पीटीआई के अनुसार फुल्का ने बताया है कि उन्होंने पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल से इस विषय पर बात की थी जिसके बाद ही उन्होंने पार्टी के ''सभी पदों से इस्तीफ़ा देने का फ़ैसला किया है.''

'अभी या कभी नहीं'

इमेज कॉपीरइट AP

फुल्का ने शनिवार को फ़ेसबुक पेज ''1984 दंगा पीड़ितों के लिए न्याय- अभी या कभी नहीं'' नाम से पोस्ट किया है और लोगों से अपील की है कि संयुक्त राष्ट्र के सामने इसके लिए विरोध प्रदर्शन करें.

ये प्रदर्शन 25 सितंबर को होने वाले हैं.

उम्मीद की जा रही है कि प्रधानमंत्री मोदी 25 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र के एक कार्यक्रम में संबोधन देंगे.

फुल्का 1984 दंगों में पीड़ितों की ओर से लड़ते रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार