मदुरै नरबलि मामला, कब- क्या हुआ

आईएएस अफ़सर यू सहायम इमेज कॉपीरइट RAJA

तमिलनाडु के मदुरै में संदिग्ध मानव बलि का मामला राज्य में खनन के एक बड़े कारोबारी के सर का दर्द बनता जा रहा है.

शुक्रवार को जाँच एजेंसियों ने मदुरै से क़रीब पचास किलोमीटर दूर मेलूर गांव में नदी किनारे पाँच फुट ग़हरी खुदाई की.

खान के मालिक से एक दिन पहले ही संदिग्ध मानव बलि के संबंध में पूछताछ की गई थी.

बीते रविवार को जिस स्थान पर नर कंकाल मिले थे वहां दस फ़ुट नीचे तक और खुदाई की गई है.

मद्राह हाई कोर्ट की ओर से प्रांत में अवैध खनन की गतिविधियों की जांच कर रहे आयुक्त यू सहायम ने खुदाई के आदेश दिए थे.

इमेज कॉपीरइट RAJA

खनन कंपनी पीआरपी ग्रेनाइट्स के एक पूर्व ड्राइवर ने शिकायत दी थी कि कंपनी ने मानसिक रूप से बीमार लोगों की बलि दी है और उन्हें इस स्थान पर दफ़नाया है.

ड्राइवर ने खनन कंपनी पर आरोप लगाए हैं कि उससे मानसिक रूप से असंतुलित लोगों को सड़कों से उठाकर उनका अच्छे से खानपान करने और फिर खान पर छोड़ने के लिए कहा जाता था.

सहायम तब ख़ासी चर्चा में आए जब मेलुर गांव के क़ब्रिस्तान में वे खाट पर ही सो गए. वे नहीं चाहते थे कि 1990 में वहां दफ़नाई गई लाश से कोई किसी तरह की छेड़छाड़ करे.

कब क्या हुआ?

मई 2012- सहायम ने मुदरै में अवैध खनन की जाँच की और अपनी रिपोर्ट में 16 हज़ार करोड़ के अवैध खनन के कारोबार को उजागर करते हुए रिपोर्ट सरकार को सौंपी.

सरकार ने कार्रवाई करने के बजाए सहायम का तबादला कर दिया.

इमेज कॉपीरइट RAJA
Image caption सहायम मदुरै के ज़िलाधिकारी भी रह चुके हैं.

11 सितंबर 2014- राज्य में जारी अवैध खनन के ख़िलाफ़ दायर एक जनहित याचिका के बाद सहायम को राज्य में अवैध खनन की जाँच करने के लिए क़ानूनी आयुक्त नियुक्त किया गया.

13 सितंबर 2015- सहायम के आदेश पर मदुरै के मेलूर में हुई खुदाई में चार लोगों की हड्डियां और शवों के अवशेष बरामद हुए. सहायम पीआरपी ग्रेनाइट्स के पूर्व ड्राइवर के मानव बलि के आरोपों की जाँच कर रहे थे.

16 सितंबर 2015- मद्रास हाई कोर्ट ने सहायम को रिपोर्ट पेश करने के लिए आठ और हफ़्तों का वक़्त दिया.

17 सितंबर 2015- पीआरपी ग्रेनाइट के मालिक से पुलिस ने आठ घंटों तक पूछताछ की.

(स्थानीय पत्रकार केवी लक्ष्मण से बातचीत के आधार पर)

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉयड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार