चुनावी मैदान में कूदे लालू के दोनों लाल

  • 23 सितंबर 2015
लालू के लाल इमेज कॉपीरइट rjd.co.in

राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद के दोनों बेटे इस बार विधानसभा चुनावों में उतरेंगे.

तेजस्वी प्रसाद यादव राघोपुर विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ने की तैयारी कर रहे हैं जबकि तेज प्रताप यादव महुआ से चुनाव लड़ेंगे. ये दोनों चुनाव क्षेत्र वैशाली ज़िले में हैं.

इमेज कॉपीरइट Prashant Ravi

तेजस्वी प्रसाद हाल में चंपारण की रैली में कांग्रेस नेता राहुल गांधी के साथ एक मंच पर नज़र आए थे.

महुआ में तेज प्रताप के ख़िलाफ़ मांझी की पार्टी हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा के रविंद्र राय खड़े हैं. वहीं तेजस्वी को भारतीय जनता पार्टी के सतीश कुमार यादव से मुक़ाबला करना होगा.

मांझी की पार्टी एनडीए गठबंधन का हिस्सा है.

लालू के दोनों बेटों के अलावा उनके निजी सचिव भोला यादव को भी दरभंगा के बहादुरपूर से टिकट दिया गया है.

महागठबंधन में सीटों का ऐलान

इमेज कॉपीरइट AFP. Facebook pages of Nitish Kumar and Lalu Yadav

बुधवार को राष्ट्रीय जनता दल, जनता दल-यूनाइटेड और कांग्रेस के महागठबंधन ने कुल 242 साटों के लिए उम्मीदवारों की घोषणा की.

उम्मीदवारों के नाम की घोषणा महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के दावेदार नीतीश कुमार ने की. बिहार में विधानसभा की कुल 243 सीटें हैं और नालंदा ज़िले की राजगीर सीट के लिए उम्मीदवार की घोषणा नहीं की गई है.

नीतीश कुमार ने कहा कि इस सीट से उम्मीदवार की घोषणा बाद में की जाएगी. राजगीर सीट जेडी-यू के खाते में है.

महागठबंधन में शामिल आरजेडी और जेडी-यू को 101-101 सीटों जबकि कांग्रेस को 41 सीटों मिली हैं.

नामों की घोषणा के समय नीतीश के साथ आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष रामचंद्र पूर्व, जेडी-यू के प्रदेश अध्यक्ष बशिष्ठ नारायण सिंह और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अशोक चौधरी भी मंच पर मौजूद थे.

नीतीश कुमार ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि महागठबंधन ने इस बात का पूरा ख़्याल रखा है कि टीकट बंटवारे में समाज के सभी तबक़े का उचित प्रतिनिधित्व हो.

इमेज कॉपीरइट Manish Shandilya

लिस्ट में लगभग 16 प्रतिशत उम्मीदवार जनरल कैटगरी से, 55 प्रतिशत उम्मीदवार पिछड़े तबक़े से, 16 प्रतिशत उम्मीदवार एससी/एसटी और 14 प्रतिशत मुस्लिम उम्मीदवारों को जगह दी गई है.

नीतीश ने एक बार फिर दोहराया कि महागठबंधन के लिए विकास ही चुनाव का मुद्दा रहेगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार