टीवी पर आया 'बीबीसी दुनिया'

  • 5 अक्तूबर 2015

बीबीसी हिंदी का एक नया टीवी कार्यक्रम ईटीवी नेटवर्क पर शुरू हो गया है.

'बीबीसी दुनिया' नाम का अंतरराष्ट्रीय ख़बरों का यह कार्यक्रम सोमवार से शुक्रवार तक दिखाया जाएगा. सोमवार को इसकी पहली कड़ी प्रसारित की गई.

इसमें भारतीय दर्शकों को ध्यान में रखते हुए अंतरराष्ट्रीय ख़बरें होंगी. 'बीबीसी दुनिया' ईटीवी पर रात नौ बजे के स्लॉट में 'ईटीवी न्यूज़ विद बीबीसी' का हिस्सा होगा.

यह ईटीवी नेटवर्क के ईटीवी राजस्थान, ईटीवी उत्तर प्रदेश-उत्तराखंड, ईटीवी बिहार-झारखंड, ईटीवी मध्य प्रदेश-छत्तीसगढ़, ईटीवी हरियाणा-हिमाचल और ईटीवी उर्दू पर रात नौ बजकर बीस मिनट पर प्रसारित होगा.

यह कार्यक्रम bbchindi.com और बीबीसी के यू-ट्यूब चैनल youtube.com/bbchindi पर भी उपलब्ध होगा.

खुलेंगी ख़बरों की परतें

'बीबीसी दुनिया' का प्रोडक्शन और प्रेजेंटेशन लंदन स्थित बीबीसी मुख्यालय से होगा जो दुनिया का सबसे बड़ा समाचार प्रसारण केंद्र है.

बीबीसी दुनिया तेज़ गति वाला दस मिनट का ख़बरों का कार्यक्रम होगा. युवाओं को ध्यान में रखकर बनाए जाने वाले इस कार्यक्रम में उस दिन की दुनिया भर की राजनीति, विज्ञान, तकनीकी, संस्कृति और मनोरंजन की ख़बरें दिखाई जाएंगी और भारत पर पड़ने वाले उनके असर का आकलन किया जाएगा.

इस कार्यक्रम में बीबीसी की अंतरराष्ट्रीय स्तर की न्यूज़ कवरेज, बीबीसी के एक्सलूसिव न्यूज़ फीचर्स तो होंगे ही, साथ ही ग्लोबल ख़बरों की परतें खोलने का काम भी बीबीसी के माहिर पत्रकार करेंगे.

बीबीसी वर्ल्ड सर्विस एशिया एडिटर जुलियाना आयोटी ने कहा, ''बीबीसी दुनिया की शुरुआत इस क्षेत्र में बीबीसी वर्ल्ड सर्विस के लिए एक बड़ी उपलब्धि है. यह हिंदी के दर्शकों के लिए हमारी प्रतिबद्धता की मिसाल है. बीबीसी दुनिया अब सोमवार से शुक्रवार तक उपलब्ध रहेगा जिससे हम अपने दर्शकों तक बेहतर तरीक़े से पहुँच सकेंगे. उम्मीद है कि यह कार्यक्रम देखना उन लोगों के लिए ज़रूरी हो जाएगा, जो बीबीसी के साथ हिंदी में दुनिया के बदलावों पर नज़र रखना चाहते हैं.''

युवा दर्शकों के अनुरूप

इमेज कॉपीरइट PA

बीबीसी हिंदी के एडिटर निधीश त्यागी ने कहा, "बीबीसी हिंदी की लंदन और दिल्ली स्थित टीमों ने बीबीसी दुनिया को दर्शकों तक पहुँचाने के लिए कड़ी मेहनत की है, कार्यक्रम भारत के दर्शकों तक ईटीवी नेटवर्क के ज़रिए और बाक़ी दुनिया के दर्शकों तक bbchindi.com और यूट्यूब चैनल के माध्यम से पहुँचेगा."

वो कहते हैं, "अपने दर्शकों, ख़ास तौर पर युवा दर्शकों को ध्यान में रखकर हमने तेज़ गति वाला ऐसा फॉर्मेट तैयार किया है कि जिससे दुनिया की भर की ज़रूरी ख़बरें हम उन्हें दे सकेंगे. हमें उम्मीद है कि वे ईटीवी पर और अपने पसंद के दूसरे प्लेटफॉर्म पर हमसे जुड़ेंगे."

बीबीसी वर्ल्ड सर्विस के बिज़नेस डेवलेपमेंट के एशिया-प्रशांत क्षेत्र के प्रमुख इंदुशेखर सिन्हा कहते हैं, ''बीबीसी दुनिया की शुरुआत का मतलब बीबीसी हिंदी टीवी का भारत में अहम विस्तार है. इससे हमारी ईटीवी के साझीदारी मज़बूत होगी, जो क़रीब तीन साल से हमारे साप्ताहिक टीवी कार्यक्रम को लाखों दर्शकों तक पहुँचाते रहे हैं. इससे भारत में हमारे दर्शकों की संख्या बढ़ेगी.''

एक नई खिड़की

इमेज कॉपीरइट PA

बीबीसी दुनिया के प्रसारण पर ईटीवी न्यूज़ नेटवर्क के प्रमुख जगदीश चंद्र ने कहा, ''ईटीवी भारत में क्षेत्रीय ख़बरों में अग्रणी है. बीबीसी के साथ समझौते ने इसके ताज में एक और हीरा जोड़ा है. अब देश भर में फैले ईटीवी के दर्शकों को बीबीसी दुनिया के रूप में एक अंतरराष्ट्रीय खिड़की मिल गई है. ईटीवी और बीबीसी का यह मिलन उन दर्शकों के लिए वरदान साबित होगा, जो उन ख़बरों को देखना चाहते हैं जो उनके लिए मायने रखती हैं.''

ईटीवी न्यूज़ के समूह संपादक राजेश रैना ने कहा, ''बीबीसी के साथ बने इस संबंध पर हमें गर्व है, जिसका अंतरराष्ट्रीय मीडिया में कोई मुक़ाबला नहीं है. दस मिनट का बीबीसी दुनिया का प्रसारण ईटीवी के चैनल पर लंदन से होगा. यह समाचार कार्यक्रमों के गुलदस्ते में नया रंग और ख़ुशबू भरेगा. यह कार्यक्रम बीबीसी को ईटीवी के ज़रिए, जिसके पास देश में सबसे बड़ा न्यूज़ नेटवर्क है, भारत के ज़मीनी दर्शकों तक पहुंचाएगा.''

बीबीसी हिंदी ऑनलाइन, मोबाइल, टीवी और रेडियो पर उपलब्ध है. बीबीसी हिंदी बीबीसी वर्ल्ड सर्विस का एक हिस्सा है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)