सिंहस्थ मेले पर 'बुरी' नज़र

सिंहस्थ मेला इमेज कॉपीरइट SHOORE NIYAZI

मध्यप्रदेश के उज्जैन में 2016 में होने वाले सिंहस्थ मेले की तैयारी शुरू हो गई है लेकिन धार्मिक आयोजनों में होने वाले हादसों को देखते हुए सरकार चिंतित है.

यही वजह है कि सिहंस्थ मेला प्राधिकरण ने एक नौ सदसीय ज्योतिषियों की कमेटी का गठन किया है.

इस कमेटी की कोशिश होगी की अनुष्ठनों और पूजा पाठ के ज़रिये मेले के दौरान आने वाले बुरे योग का निवारण किया जा सके.

सिहंस्थ मेला प्राधिकरण के अध्यक्ष दिवाकर वासुदेव नाटू ने बताया, “विभिन्न तरह के अनुष्ठान कराये जा रहे हैं जो विभिन्न पंडितों द्वारा संपन्न कराए जायेंगे.”

हालांकि वो मानते हैं कि जो होना है वो होकर रहेगा लेकिन इसके ज़रिये उनके असर को कम जरूर किया जा सकता है.

'गुरू चंडाल योग'

इमेज कॉपीरइट SHOORE NIYAZI

ज्योतिषियों की समिति के सदस्य पंडित आनंद शंकर व्यास ने बताया, ”सिहंस्थ के दौरान गुरु चंडाल का योग बन रहा है जिसकी वजह से कोई बड़ी अनहोनी हो सकती है इसलिए ये बेहतर है कि हम पहले ही उसके लिए कोई उपाय करके रखें.”

उज्जैन नगर निगम कमिश्नर और मेला अधिकारी अविनाश लावनिया ने बताया, “ये धार्मिक कार्यक्रम है इसलिए इसमें विभिन्न मंदिरों द्वारा पूजा पाठ आयोजित किये जा रहे हैं.”

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार