कैसा रहा दिल्ली का कार-फ्री डे ?

इमेज कॉपीरइट AP

दिल्ली में गुरुवार को कार फ्री डे के तहत कुछ इलाक़ों में वाहनों की आवाजाही बंद रही.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरंविद केजरीवाल ने अपने समर्थकों के साथ लाल क़िले से इंडिया गेट तक साइकिल यात्रा निकाली. इस दौरान 6 किलोमीटर के इस रूट पर केवल सार्वजनिक वाहन ही चले. हालांकि विजयादशमी की छुट्टी की वजह से गुरूवार को दिल्ली की सड़कें आमतौर पर खाली ही रहीं.

दिल्ली सरकार महीने में एक दिन कार फ्री डे के रूप में मनना चाहती है. इसका मक़सद दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण से लड़ना है.

इमेज कॉपीरइट AP

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने 2014 में कहा था कि बीजिंग की हवा के मुक़ाबले दिल्ली की हवा दोगुना ज़हरीली है. दिल्ली को दुनिया के सबसे प्रदूषित शहरों में गिना जाता है. यहां हर रोज़ सड़कों पर 80 लाख से ज़्यादा गाड़ियां चलती हैं.

इमेज कॉपीरइट epa
इमेज कॉपीरइट twitter

लेकिन सवाल इस पर उठ रहे हैं कि केवल एक सड़क को 5 घंटे के लिए बंद करने से क्या हासिल होने वाला है, वो भी ऐसे दिन जब स्कूल-कॉलेज, दफ़्तर, व्यापार सब छुट्टियों की वजह से बंद हों. इसलिए सोशल मीडिया पर दिल्ली सरकार के इस फ़ैसले पर मिली जुली प्रतिक्रिया आ रही है...

दिल्ली पुलिस ने भी इसपर दिल्ली सरकार की आलोचना की थी और इसे नासमझी बताया था.

हालांकि कुछ लोगों का मानना है कि यह एक अच्छी शुरूआत है. इससे सेहत पर प्रदूषण के बुरे असर के बारे में लोग सोचना शुरू करेंगे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)