हवा में ही टूटा था रूसी विमान

रूस का विमान दुर्घटनाग्रस्त इमेज कॉपीरइट EPA

रूस के एक जांचकर्ता ने कहा है कि मिस्र में रूस का दुर्घटनाग्रस्त विमान हवा में ही टूट गया था.

शनिवार को मिस्र के सिनाई प्रायद्वीप में दुर्घटना ग्रस्त विमान में सवार सभी 224 लोगों की मौत हो गई थी जिनमें 217 रूसी पर्यटक थे और चालक दल के 7 सदस्य थे.

फ़िलहाल दुर्घटनास्थल से 163 शवों को निकाल लिया गया है.

रूस के अंतरराष्ट्रीय उड्डयन कमेटी के विक्टर सोरोचेंको ने कहा कि विमान के टुकड़े लगभग 20 किलोमीटर के इलाक़े में बिखर गए थे.

इमेज कॉपीरइट Reuters

हसना में दुर्घटनास्थल का दौरा करने के बाद क़ाहिरा में एक प्रेस कांफ्रेंस में विक्टर सोरोचेंको ने बताया कि फ़िलहाल शनिवार के विमान हादसे की वजहों के बारे में कुछ भी कहना जल्दबाज़ी होगी.

हादसे के बाद रूस में रविवार को राष्ट्रीय शोक की घोषणा की गई थी.

इमेज कॉपीरइट EPA

इससे पहले चरमपंथी संगठन इस्लामिक स्टेट ने सोशल मीडिया में सिनाई के विमान हादसे की ज़िम्मेदारी ली थी लेकिन रूस ने इस दावे को ख़ारिज कर दिया था.

मिस्र के प्रधानमंत्री शरीफ़ इस्माइल ने कहा था कि विशेषज्ञों ने पुष्टि कर दी है कि 9,450 मीटर की ऊंचाई पर उड़ रहे विमान को ज़मीन से नहीं मार गिराया जा सकता.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार