'दिल्ली से सबक नहीं लिया, हार की समीक्षा करें'

  • 10 नवंबर 2015
आडवाणी जोशी इमेज कॉपीरइट PTI

भारतीय जनता पार्टी के चार वरिष्ठ नेताओं ने शीर्ष नेतृत्व की कड़ी आलोचना करते हुए कहा है कि भाजपा ने दिल्ली की हार से कोई सबक नहीं सीखा है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार बिहार में भाजपा की हार के बाद आए साझा बयान में इन नेताओं ने कहा है कि हार की वजह ये है कि पिछले एक साल से पार्टी को शक्तिहीन बना दिया गया है.

लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, यशवंत सिन्हा और शांता कुमार की ओर से ये बयान जारी किया गया है.

Image caption यशवंत सिन्हा की फ़ाइल तस्वीर

इन नेताओं ने बिहार में हुई हार की गहन समीक्षा की मांग की है.

ये भी कहा गया है कि कैसे पार्टी को कुछ मुट्ठीभर लोगों के आगे झुकने पर मजबूर किया गया है और उसके आम सहमति के चरित्र को बर्बाद कर दिया गया है.

बयान में इन नेताओं ने कहा है कि समीक्षा वो लोग नहीं कर सकते जिन्होंने ख़ुद बिहार चुनाव अभियान का प्रबंधन किया और जो उसके लिए ज़िम्मेदार थे.

इमेज कॉपीरइट AFP

एक समाचार एजेंसी ने यशवंत सिन्हा के हवाले से कहा है कि बिहार में हार के लिए किसी को दोषी न ठहराना ये सुनिश्चित करना है कि इसके लिए कोई ज़िम्मेदार ही नहीं है.

बयान में कहा गया, "ये दर्शाता है कि जो लोग पार्टी की जीत की स्थिति में श्रेय लेते हैं वो शर्मनाक हार की ज़िम्मेदारी लेने से पीछे हट रहे हैं."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार