'बॉन्ड के किसिंग सीन निहलानी ने काटे'

जेम्स बॉन्ड सिरीज़ की फ़िल्म 'स्पेक्ट्रा' से किसिंग सीन काटने के बाद विवाद खड़ा हो गया है.

सेंसर बोर्ड के सदस्य अशोक पंडित ने इसे पहलाज निहलानी का 'निजी फैसला' बताया है.

उन्होंने बीबीसी को बताया, "जी हाँ ये फ़ैसला पहलाज निहलानी ने लिया है. वे इसी तरह काम करते हैं. किसिंग सीन के अलावा भी बहुत कुछ काटा गया है. ये एक किस्म का मज़ाक है. अगर आप जेम्स बॉन्ड की फ़िल्मों में भी ऐसा करेंगे तो ये शर्म की बात है."

अशोक पंडित कहते हैं, "मैं बोर्ड का सदस्य होने के नाते बहुत दुखी हूँ और इसके सख्त ख़िलाफ़ हूँ."

वो बताते हैं कि "जिन लोगों ने भी पहलाज निहलानी का विरोध किया, उन्हें दरकिनार कर दिया गया. वो खुद ही सारे फ़ैसले लेते हैं. हम लोग तो फिल्म देखते ही नहीं है. वही खुद फिल्में देखते हैं और फ़ैसले लेते हैं."

इमेज कॉपीरइट Pahlaj NIhlani

उन्होंने कहा, "आज तक किसी चेयरमैन ने सेंसर सर्टिफिकेट पर साइन नहीं किए लेकिन वो ख़ुद ही सारे सर्टिफिकेट पर साइन करते हैं. सारी चीजें वे ख़ुद ही करते हैं. फिर बाकी लोगों की क्या ज़रूरत है."

बीबीसी ने जब पहलाज निहलानी से संपर्क करने की कोशिश की तो उन्होंने इस पर कुछ भी कहने से मना कर दिया.

पहलाज निहलानी सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष हैं और उन्होंने हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक वीडियो बनाया है.

बताया जा रहा है कि पहलाज निहलानी ने अपनी इस सात मिनट लंबी लघु फ़िल्म में नरेंद्र मोदी की जमकर तारीफ़ की है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार