हम सूटबूट का हिंदुस्तान नहीं चाहते: राहुल

राहुल गांधी की पदयात्रा इमेज कॉपीरइट OfficeOfRG

कांग्रेस महासचिव ने उत्तर प्रदेश के सहारनपुर में किसानों के मुद्दे उठाने के लिए पैदल मार्च किया है.

राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर तंज करते हुए कहा, "अच्छे दिन कहां गए, नरेंद्र मोदी जी कभी लंदन जाते हैं, मलेशिया जाते हैं, सिंगापुर जाते हैं, उनके अच्छे दिन आ गए लेकिन यहां अच्छे दिन नहीं आए."

उन्होंने कहा, "हमारे लिए हिंदुस्तान में तभी अच्छे दिन आएंगे जब किसान के लिए, मज़दूर के लिए, दलित के लिए, आदिवासी के लिए अच्छे दिन आएंगे."

राहुल गांधी ने कहा कि अपनी सरकार के दौरान हम किसानों के लिए हर साल एमएसपी बढ़ाते थे. उन्होंने किसानों के 70 हज़ार करोड़ रुपए कर्ज़ माफ़ करने के मनमोहन सरकार के फ़ैसले का भी ज़िक्र किया.

राहुल ने कहा, "किसान हमारे पास आए और कहा कि जब अमीर आदमी बैंक जाता है तो लाल कालीन बिछ जाती है लेकिन जब किसान-मज़दूर जाता है तो उसे बाहर निकाल दिया जाता है. किसानों की इस पीड़ा को जानकर हमने 70 हज़ार करोड़ का क़र्ज़ माफ़ कर दिया."

इमेज कॉपीरइट OfficeOfRG

राहुल गांधी ने कहा कि उत्तर प्रदेश में गन्ना किसान परेशान हैं. उनका गन्ना नहीं उठाया जा रहा है.

राहुल ने कहा, "मैं अखिलेश यादव जी से कहना चाहता हूँ कि आपने यूपी को बदलने का वादा किया था, अभी आपके पास डेढ़ साल का वक़्त है, आप यूपी को बदलिए, किसानों को उनके गन्नों का पैसा दीजिए. बंद चीनी मिलों को खुलवाएँ."

उन्होंने कहा, "हमने मज़दूरों को दुनिया का सबसे बड़ा रोज़गार का प्रोग्राम मनरेगा दिया. हर परिवार को सौ दिन का निश्चित रोज़गार दिया. जो सपना भी नहीं देख सकता था उसके घर में मोटरसाइकिल आ गई. उसके बच्चों की शादी हो गई."

राहुल ने कहा, "हम सूटबूट का हिंदुस्तान नहीं चाहते हैं, हम किसानों का, ग़रीबों का, मज़दूरों का हिंदुस्तान चाहते हैं. हम किसानों के साथ थे और रहेंगे."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार