6000 अतिरिक्त बसें चलाएगी दिल्ली सरकार

दिल्ली इमेज कॉपीरइट AP

दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण और उसे रोकने के उपायों पर जारी चर्चा के बीच आम आदमी पार्टी सरकार ने जनवरी 2016 से कुछ 'ठोस' कदम उठाने की बात कही है.

इमेज कॉपीरइट AFP

दिल्ली सरकार का दावा है कि इन उपायों से बढ़ते प्रदूषण को रोकने में मदद मिलेगी. स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन और परिवहन मंत्री गोपाल राय ने गुरुवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया-

1. दिल्ली में 6,000 और बसें सार्वजनिक परिवहन बेड़े में शामिल की जाएंगी. इनमें से 4000 बसें सरकार अनुबंध पर चलाएगी. बेड़े में 2000 स्कूली बसों को भी शामिल किया जाएगा.

2. दिल्ली में बसों की अलग लाइन होगी जिनकी पहचान अधिकतम एक जनवरी तक कर ली जाएगी. बसों की लेन में आने वाले अन्य वाहनों के ख़िलाफ़ कार्रवाई की जाएगी.

3. दिल्ली में मौजूदा ऑटो रिक्शा की संख्या दोगुनी की जाएगी और एक ही ऑटो को दो ड्राइवर दो अलग-अलग शिफ्ट में चला सकेंगे. लोग अपने मोबाइल से ऑटो रिक्शा बुक कर सकें, इसके लिए 'पूछो ऐप' जारी किया जाएगा.

4. दिल्ली में आसपास के इलाकों से आने और जाने वाली लोकल ट्रेनों की संख्या बढ़ाने के लिए रेल मंत्रालय से बात की जाएगी.

5. निर्माणाधीन जगहों पर प्रदूषण रोकने और खुले में कचरा वगैरह जलाने वालों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई की जाएगी. ऐसे मामलों में 5000 रुपए तक का जुर्माना लगाया जाएगा.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार