'सीबीआई को विपक्ष को ख़त्म करने का आदेश'

अरविंद केजरीवाल
Image caption इससे पहले केजरीवाल ने कहा था कि मैं सीबीआई से डरने वाला नहीं हूँ.

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आरोप लगाया है कि केंद्र सरकार केंद्रीय जाँच ब्यूरो यानी सीबीआई के ज़रिए विपक्ष को निशाना बना रही है.

केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा है कि सीबीआई को सभी विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधने के लिए कहा गया है.

केजरीवाल ने ट्वीट किया, "एक सीबीआई के अधिकारी ने कल मुझे बताया है कि सीबीआई से विपक्षी पार्टियों पर निशाना साधने और जो सरकार की बात ना माने उन्हें ख़त्म करने के लिए कहा गया है."

प्रधानमंत्री कार्यालय के राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने केजरीवाल के आरोपों को नकारते हुए कहा है, "केजरीवाल को सीबीआई के अधिकारी का नाम बताना चाहिए और सबूत देने चाहिए."

उन्होंने कहा, "सरकार सीबीआई के काम में दख़ल नहीं देती है."

इमेज कॉपीरइट Other

उन्होंने कहा, "केजरीवाल ने कहा है कि एक सीबीआई अधिकारी ने उनसे जानकारी साझा की है. क्या एक सीएम से ऐसे बयानों की उम्मीद की जाती है? क्या वो अब सीबीआई के ऊपर एक और ख़ुफ़िया संस्था बिठा रहे हैं?"

मंगलवार को सीबीआई ने दिल्ली सचिवालय पर छापा मारा था.

अरविंद केजरीवाल ने इसे अपने दफ़्तर पर छापा बताते हुए आरोप लगाया था कि सीबीआई को दिल्ली ज़िला क्रिकेट एसोसिएशन (डीडीसीए) में हुए भ्रष्टाचार से जुड़ी फ़ाइलें उनके देखने के लिए भेजा गया था.

केजरीवाल ने आरोप लगाया था कि केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली भ्रष्टाचार के आरोपों में फँस रहे हैं और वो उनके ख़िलाफ़ जाँच घोषित करने वाले थे, लेकिन इससे पहले ही फ़ाइलें ज़ब्त कर ली गईं.

केजरीवाल की आम आदमी पार्टी ने गुरुवार को प्रेस कॉन्फ़्रेंस कर अरुण जेटली पर डीडीसीए के प्रबंधन में भ्रष्टाचार के आरोप भी लगाए थे.

जेटली ने ख़ुद पर लगे सभी आरोपों को ख़ारिज किया है.

इमेज कॉपीरइट PTI
Image caption अरविंद केजरीवाल ने वित्त मंत्री अरुण जेटली पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं.

इससे पहले, यूपीए शानसकाल के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने एक टिप्पणी में सीबीआई को 'पिंजरे में बंद तोता' कहा था.

विपक्ष में रहते हुए भारतीय जनता पार्टी के नेता भी सीबीआई की निष्पक्षता पर सवाल उठाते रहे हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जून 2013 में सीबीआई को कांग्रेस ब्यूरो ऑफ़ इंवेस्टिगेशन कहा था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार