कहीं 'दिलवाले' तो कहीं 'मस्तानी' पर बवाल

  • 18 दिसंबर 2015
दिलवाले इमेज कॉपीरइट Red Chillies Entertainment

दिल्ली से सटे ग़ाज़ियाबाद में शाहरुख ख़ान अभिनीत फ़िल्म दिलवाले की स्क्रीनिंग कुछ लोगों के विरोध के कारण रोकनी पड़ी है.

महागुन मेट्रो मॉल में पीवीआर सिनेमा में फ़िल्म दिलवाले के सुबह के शो में प्रदर्शनकारियों ने रुकावट डाली.

पीवीआर सिनेमा प्रबंधन से जुड़े सुजीत ने फ़ोन पर बीबीसी को बताया, "सौ से अधिक प्रदर्शनकारियों ने शाहरुख ख़ान के विरोध में नारेबाज़ी करते हुए रुकावट डाली है. पुलिस आ गई है. आगे शो चलाने हैं या नहीं ये पुलिस से बात करके तय किया जाएगा."

इसी सिनेमा में फ़िल्म देख रहे पीयूष पांडे ने भी बीबीसी को बताया कि विरोध के कारण फ़िल्म की स्क्रीनिंग रोकी गई थी.

अभिनेता शाहरुख ख़ान ने कुछ दिनों पहले एक बयान में कहा था कि भारत में असहिष्णुता बढ़ रही है. इस बयान के बाद से हिंदूवादी संगठन उनका विरोध कर रहे हैं.

इमेज कॉपीरइट eros

वहीं दूसरी ओर पुणे में फ़िल्म बाजीराव मस्तानी की स्क्रीनिंग भाजपा के विरोध के कारण रोकनी पड़ी है.

स्थानीय पत्रकार देवीदास देशपांडे के मुताबिक़ शहर के सिटीप्राइड मल्टीप्लेक्स में बाजीराव मस्तानी की आज से स्क्रीनिंग होनी थी लेकिन भाजपा की चेतावनी के बाद इसे रोक दिया गया है.

बीजेपी कार्यकर्ताओं को फ़िल्म के दो गानों का जिस तरह से चित्रण किया गया है उससे एतराज़ है. वो कह रहे हैं कि फ़िल्म निर्माता ने इनमें इतिहास से छेड़छाड़ किया है.

स्थानीय भाजपा विधायक मेधा कुलकर्णी ने महाराष्ट्र के अन्य शहरों में भी फ़िल्म का विरोध करने की बात कही है.

कल ही भाजपा कार्यकर्ताओं ने फ़िल्म के ख़िलाफ़ पुणे में प्रदर्शन किया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार