जेटली के समर्थन में उतरे सहवाग और गंभीर

वीरेंद्र सहवाग

भाजपा सांसद और पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आज़ाद की डीडीसीए में घपले पर रविवार को होने वाली प्रेस कॉन्फ्रेंस से पहले कुछ पूर्व क्रिकेटर अरुण जेटली के समर्थन में आ गए हैं.

आम आदमी पार्टी (आप) ने आरोप लगाया था कि वित्त मंत्री अरुण जेटली के डीडीसीए के अध्यक्ष रहते बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हुआ.

पार्टी ने दावा किया कि इस घपले से जुड़ी फ़ाइलों को हासिल करने के लिए ही केंद्रीय जाँच ब्यूरो (सीबीआई) ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के प्रधान सचिव के कार्यालय पर छापा मारा था. लेकिन अरुण जेटली ने इन आरोपो को कोरा 'कचरा' बताया था.

इसके बाद कीर्ति आज़ाद ने दावा किया था कि घपले के बारे में आप के पास सिर्फ़ 15 प्रतिशत जानकारी ही है और वह रविवार को बाकी जानकारी सार्वजनिक करेंगे.

इस बीच, पूर्व टेस्ट खिलाड़ी वीरेंद्र सहवाग और दिल्ली के कप्तान गौतम गंभीर ने अरुण जेटली के समर्थन में एक के बाद एक कई ट्वीट किए हैं.

सहवाग ने ट्वीट किया, "डीडीसीए में कुछ अन्य से बात करना दुस्वप्न जैसा था, लेकिन अरुण जेटली किसी भी मुश्किल में खिलाड़ियों के लिए हमेशा उपलब्ध रहते थे."

सहवाग ने एक और ट्वीट किया, "अगर किसी खिलाड़ी के 'गलत' चयन की जानकारी होती थी तो मुझे सिर्फ अरुण जेटली को बताना होता था. वो इसे तुरंत ठीक करते और चयन के हकदार खिलाड़ी को न्याय दिलाते."

इमेज कॉपीरइट GETTY

गौतम गंभीर ने सहवाग के ट्वीट को रीट्वीट तो किया ही है. साथ ही गंभीर ने ट्वीट किया, "डीडीसीए में भ्रष्टाचार के लिए जेटली को ज़िम्मेदार ठहराना उचित नहीं है. उन्होंने जनता के पैसे के बिना दिल्ली को एक शानदार स्टेडियम दिया."

उन्होंने ट्वीट किया, "कुछ पूर्व खिलाड़ी डीडीसीए में भ्रष्टाचार के लिए जेटली को ज़िम्मेदार ठहरा रहे हैं, जबकि जेटली के कारण ही उन्हें डीडीसीए में अहम पद मिले."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार