केरल: इस्लाम पर टिप्पणी, स्टूडियो जलाया गया

  • 28 दिसंबर 2015
रफ़ीक़ का फ़ोटो स्टूडियो इमेज कॉपीरइट Maharoof Taliparamba

केरल में एक व्हॉट्सएप ग्रुप में इस्लामी रीति रिवाज पर टिप्पणी करने वाले एक फ़ोटोग्राफ़र का स्टूडियो जला दिया गया है.

32 वर्षीय रफ़ीक़ कन्नूर ज़िले के तलीपरम्बा में फ़ोटोग्राफ़र हैं और वहीं उनका फ़ोटो स्टूडियो है.

रफ़ीक़ ने बीबीसी को बताया, "मैंने एक व्हाट्सएप ग्रुप में पर्दे और इस्लाम से जुड़े अन्य मुद्दों को लेकर अपनी राय रखी थी. इसके बाद मुझे कई बार धमकियां मिली थीं. शनिवार सुबह मेरे स्टूडियो को आग लगा दी गई."

इमेज कॉपीरइट Maharoof Keloth

तलीपरम्बा पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है और जांच कर रही है.

जाँच अधिकारी पुलिस इंस्पेक्टर विनोद ने बीबीसी से फ़ोन पर बात करते हुए स्टूडियो जलाए जाने की पुष्टि की है.

उन्होंने बीबीसी को बताया, "हमने क़रीब दस लोगों से पूछताछ की है लेकिन किसी को गिरफ़्तार नहीं किया है. हम साइबर सेल की मदद ले रहे हैं और ग्रुप में सक्रिय लोगों की पहचान करने की कोशिश कर रहे हैं."

विनोद ने बताया कि अभी उनका शक किसी ख़ास ग्रुप पर नहीं है और घटना के हर पहलू की जांच की जा रही है.

रफ़ीक़ के भाई मारूफ़ ने बीबीसी से कहा कि आगज़नी में स्टूडियो पूरी तरह तबाह हो गया है.

इमेज कॉपीरइट Maharoof Keloth

मारूफ़ ने संदेह जताया है कि इस घटना के पीछे इलाक़े में सक्रिय 'कट्टरपंथी इस्लामी समूह' शामिल हो सकते हैं.

मारूफ़ कहते हैं, "पूरा परिवार स्टूडियो के भरोसे ही चल रहा था और आगज़नी की घटना के बाद परिवार पर रोज़ी-रोटी का संकट पैदा हो गया है."

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार