पाकिस्तानी गायक अदनान बने भारतीय

पाकिस्तानी गायक अदनान सामी को भारत की नागरिकता मिल गई है. एक जनवरी 2016 से वो भारतीय नागरिक बन गए.

उन्होंने केंद्र सरकार से मानवीयता के आधार नागरिकता देने की मांग की थी.

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री किरण रीजीजू ने नई दिल्ली में उन्हें नागरिकता से संबंधित कागजात सौंपे.

गृह मंत्रालय के अधिकारियों का कहना है कि सामी एक जनवरी से भारतीय नागरिक बन गए हैं.

इमेज कॉपीरइट PIB

इसके बाद अदनान सामी ने ट्वीट कर कहा, ''एक नई शुरुआत, एक नया अहसास, एक नया जुड़ाव, एक नया प्यार, एक नया देश, जय हिंद.!!!''

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार 46 साल के पाक गायक ने भारत सरकार से आग्रह किया था कि उन्हें मानवता के आधार पर भारत में वैध तरीक़े से रहने की इजाज़त दी जाए.

अब तक वो वीज़ा पर भारत में रह रहे थे. सरकार ने उनके वीज़ा की अवधि 6 अक्टूबर से आगे बढ़ाई थी.

लाहौर में जन्मे सामी भारत जब पहली बार 13 मार्च, 2001 को आए तो वे विज़िटर्स वीज़ा पर थे. ये वीज़ा इस्लामाबाद में भारतीय दूतावास की ओर से बस एक साल के लिए मिला था.

इमेज कॉपीरइट Manish Shukla

फिर समय-समय पर उनके वीज़ा की अवधि बढ़ती गई.

27 मई, 2010 को जारी हुआ उनका पाकिस्तानी पासपोर्ट 26 मई 2015 को ख़त्म हो गया.

उसके बाद पाकिस्तानी सरकार ने उनके पासपोर्ट को रिन्यू करने से मना कर दिया. उन्होंने भारत सरकार से मानवता के आधार पर भारत मेें वैध रूप से रहने की इजाज़त मांगी.

इमेज कॉपीरइट AFP

सामी गायक के रूप में भारत में बेहद मशहूर हैं.

उनके गाए दो गाने लोगों की जुबां पर चढ़ गए थे. ये दोनों गाने 'कभी तो नज़र मिलाओ' और 'लिफ़्ट करा दे' गोविंदा पर फ़िल्माए गए म्यूज़िक वीडियो से थे.

इस साल सलमान ख़ान की फ़िल्म 'बजरंगी भाईजान' में भी उनकी गाई कव्वाली 'भर दो झोली मेरी' को लोगों ने खूब पसंद किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार