'ऑड-ईवन': सोशल मीडिया पर घमासान

इमेज कॉपीरइट AP

दिल्ली के लिए सोमवार का दिन बेहद अहम होने वाला था. ऑड-ईवन नंबर की गाड़ियों को अलग अलग दिन चलाने का प्रयोग के बाद यह पहला कामकाजी दिन था.

यानी हर कामकाजी आदमी को काम के लिए निकलना था. ऐसे में दिल्ली सरकार के इंतजामों का सबसे बड़ा इम्तेहान होना था.

शुक्रवार और शनिवार को इस फार्मूले की कामयाबी को नए साल की छुट्टी और अवकाश से जोड़ कर देखा जा रहा था.

ऐसे में क्या दिल्ली की सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था दिल्ली के कामकाजी लोगों की भीड़ को संभाल पाएगी, ये सवाल बना हुआ था.

ऐसे में जब सोशल मीडिया और एकाध मीडिया वेबसाइट्स पर भी राजीव चौक मेट्रो स्टेशन की बेहद भीड़ वाली तस्वीर पोस्ट हुई थी, तो लगा कि ऑड-ईवन का प्रयोग दिल्ली की कामकाजी जनता को महंगा तो नहीं पड़ने वाला है.

हालांकि थोड़ी देर में ही सोशल मीडिया पर इस तस्वीर को पुरानी तस्वीर बताया जाने लगा.

कुछ ही पलों में सोशल मीडिया पर अरविंद केजरीवाल के विरोधी और समर्थकों के बीच घमासान बढ़ने लगा.

इस घमासान में तरह के तरह के मजाकिया पोस्ट का इस्तेमाल भी ख़ूब हुआ.

इन सबके असर ये हुआ कि ट्विटर के इंडिया पेज पर #फर्जी_भक्त_फर्जी_फोटो टॉप पर ट्रेंड करने लगा.

वहीं दूसरे पायदान पर #OddEven_का_रायता ट्रेंड करता नजर आया.

आम आदमी पार्टी की पूर्व सदस्य रहीं अंजलि दामनिया ने भी अरविंद केजरीवाल के ऑड-ईवन फार्मूला का मज़ाक उड़ाते हुए फेविकोल के विज्ञापन जैसे तस्वीर के जरिए केजरीवाल और उनके मंत्रियों को कार पूल करते दिखाया है.

वहीं आम आदमी पार्टी के मंत्री कपिल मिश्रा ने भी ट्वीट करके बताया कि पुरानी तस्वीर के माध्यम से अफ़वाह फैलाई जा रही है.

शाम साढ़े पांच बजे से साढ़े आठ बजे के दौरान मेट्रो का इस्तेमाल करने वाले बीबीसी हिंदी के कई साथियों ने बातचीत में सोमवार को मेट्रो के अंदर की भीड़ को सामान्य भीड़ ही बताया.

दिल्ली में प्रदूषण के मसले पर #RightToBreathe भी ट्विटर पर इंडिया ट्रेंडिंग टॉपिक में चौथे पायदान पर है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार